संजीवनी टुडे

नागरिकता कानून: जामिया की VC बोलीं- छात्र इस लड़ाई में अकेले नहीं हैं, मैं उनके साथ हूं

संजीवनी टुडे 16-12-2019 10:21:00

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर रविवार को जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में हिंसक विरोध प्रदर्शन हुआ। हिंसक प्रदर्शन के बाद हिरासत में लिए गए छात्रों, जिन्हें बाद में रिहा कर दिया गया, के पक्ष में जामिया की वाइस चांसलर नजमा अख्तर ने एक वीडियो संदेश जारी किया है।


नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर रविवार को जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में हिंसक विरोध प्रदर्शन हुआ। हिंसक प्रदर्शन के बाद हिरासत में लिए गए छात्रों, जिन्हें बाद में रिहा कर दिया गया, के पक्ष में जामिया की वाइस चांसलर नजमा अख्तर ने एक वीडियो संदेश जारी किया है। जामिया की वाइस चांसलर नजमा अख्तर ने अपने वीडियो संदेश में कहा कि जिस तरह से मेरे छात्रों के साथ बर्बर व्यवहार किया गया, उससे मैं दुखी हूं। मैं अपने छात्रों को बताना चाहती हूं कि इस लड़ाई में वे अकेले नहीं हैं। मैं उनके साथ हूं। मैं इस मामले जितना संभव होगा उतना आगे ले जाऊंगी।

यह भी पढ़े: PM नरेंद्र मोदी ने कहा- कल तक जो काम Pak करता आया, आज वह कांग्रेस कर रही है

समाचार एजेंसी के मुताबिक, जामिया मिल्लिया इस्लामिया की वीसी नजमा अख्तर ने कहा कि पुलिस लाइब्रेरी में बैठे छात्रों और प्रदर्शनकारियों के बीच अंतर नहीं कर सकी। कई छात्र और कर्मचारी घायल हो गए। बहुत हंगामा हुआ और पुलिस ने अनुमति भी नहीं ली। मैं अपने छात्रों की सुरक्षा और शांति की आशा करती हूं। जामिया के छात्रों ने आज के प्रदर्शन का आव्हान नहीं किया था। मुझे बताया गया है कि यह आह्वान जामिया के पास की कॉलोनियों से किया गया था। उनका पुलिस के साथ संघर्ष हुआ और यूनिवर्सिटी का गेट टूटने के बाद अंदर घुस गए।

यह भी पढ़े: प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर बोला तीखा हमला, कहा- खोखली तानाशाही...

उन्होंने आगे कहा कि किसी गलत खबर पर भरोसा मत कीजिए, हम सभी साथ हैं।

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended