संजीवनी टुडे

मुसलमान विरोधी नहीं है नागरिकता संशोधन अधिनियम- शाह

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 14-12-2019 21:11:24

शाह ने नागरिकता संशोधन कानून को मुस्लिम विरोधी नहीं होने का भरोसा दिलाते हुए आज कहा कि इस विधेयक के पारित होने से कांग्रेस की पेट में दर्द शुरू हो गया है और वही यह दुष्प्रचार भी कर रही है।


गिरिडीह/देवघर। केंद्रीय गृहमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अमित शाह ने नागरिकता संशोधन कानून को मुस्लिम विरोधी नहीं होने का भरोसा दिलाते हुए आज कहा कि इस विधेयक के पारित होने से कांग्रेस की पेट में दर्द शुरू हो गया है और वही यह दुष्प्रचार भी कर रही है।

यह खबर भी पढ़ें:​ ​अमूल दूध कल से हो जायेगा 2 रुपये प्रति लीटर महंगा

शाह ने यहां भाजपा उम्मीदवारों के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार के किसी भी निर्णय को मुसलमान विरोधी बताने की कांग्रेस की आदत हो गई है। जब केंद्र सरकार फौरी तीन तलाक विधेयक लेकर आई तो कांग्रेस ने कहा यह मुसलमान विरोधी है। इसके बाद जम्मू-कश्मीर को विशेष अधिकार देने से उत्पन्न भेदभाव को समाप्त करने के उद्देश्य से संविधान के अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त करने के लिए विधेयक लाया गया तब भी कांग्रेस ने कहा यह मुसलमान विरोधी है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि इस बार संसद के दोनों सदनों में नागरिकता संशोधन विधेयक पारित होने पर कांग्रेस की पेट में दर्द शुरू हो गया है और वह लगातार दुष्प्रचार कर रही है कि यह कानून मुसलमान विरोधी है। उन्होंने कहा, “मैं देश को भरोसा दिलाता हूं कि यह कानून मुसलमान विरोधी नहीं है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended