संजीवनी टुडे

डॉक्टरों की सुरक्षा के लिए लाया जाए केंद्रीय कानून : आईएमए

संजीवनी टुडे 14-06-2019 16:37:04

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(आईएमए) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ शान्‍तनु सेन ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के साथ हुई हिंसा की वो निंदा करते हैं।


नई दिल्ली। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(आईएमए) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ शान्‍तनु सेन ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के साथ हुई हिंसा की वो निंदा करते हैं। डॉक्टर लोगों की जान बचाता है और अगर उसी पर हमले होंगे तो वो अपने काम कैसे कर पाएगा। डॉ शान्तनु सेन ने शुक्रवार को 'हिन्दुस्थान समाचार' से बातचीत करते हुए कहा कि आए दिन डॉक्टरों के साथ बदसलूकी एवं हिंसा की घटनाएं आम हो गई हैं। डॉक्टरों के साथ मारपीट की जा रही है। इस देश में जब डॉक्टर ही सुरक्षित नहीं होगा तो वो इलाज क्या करेगा? ऐसे में केन्द्र सरकार को डॉक्टरों की सुरक्षा को लेकर केन्द्रीय कानून लाने की जरूरत है।

आईएमए अध्यक्ष ने कहा कि डॉक्टर का काम मरीजों की सेवा है, जिसे वो पूरी निष्ठा से करते हैं। जीवन और मौत ईश्वर के हाथ में है। डॉक्टर मरीज को बचाने के लिए हरसंभव प्रयास करता है। उन्होंने कहा कि डॉक्टरों के साथ हो रही हिंसा के खिलाफ आईएमए आवाज उठाता रहेगा। सरकार को अगर अस्पताल हिंसा रोकना है तो डॉक्टरों के बचाव एवं सुरक्षा के लिए केंद्रीय कानून लाना ही पड़ेगा। शान्तनु ने कहा कि केन्द्रीय कानून की मांग करते हुए आज आईएमए की सभी 2500 स्थानीय शाखाओं द्वारा ई-मेल के जरिए प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को अवगत कराया जाएगा।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166 

More From national

Trending Now
Recommended