संजीवनी टुडे

पाक अधिकृत कश्मीर को आजाद कराने की पहल करे केन्द्र : गुर्जर समुदाय

इनपुट-यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 13-08-2019 22:24:20

सरकार को अब पाक अधिकृत कश्मीर को आजाद करने की पहल करनी चाहिये


अमरोहा। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के खात्मे से उत्साहित गुर्जर समुदाय ने यहां ईद का जश्न मनाया और कहा कि सरकार को अब पाक अधिकृत कश्मीर को आजाद करने की पहल करनी चाहिये। जिले में ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक सामाजिक चेतना का केंद्र रहे सघन क्षेत्र के प्रांगण में आयोजित गुर्जर महापंचायत में संकल्प लिया गया कि गुर्जर बाहुल्य पाक अधिकृत कश्मीर की मुक्ति के लिए कश्मीरी गुर्जरों समेत देश भर के गुर्जर रणबांकुरे सेना के साथ कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग करेंगे।

राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच,अखिल भारतीय सरदार पटेल महासभा और गुर्जर महासभा समेत विभिन्न संगठनों द्वारा आयोजित महापंचायत में धारा 370 और 35-ए को हटाए जाने को लेकर खुशी का इजहार करते हुए इस साहसिक कदम के लिए केंद्र सरकार की जमकर प्रशंसा की गई वहीं इसे जम्मू कश्मीर के लगभग 35 लाख गुर्जर बकरवाल समुदाय एवं वहां की जनता के लिए आजादी का सबब बताया गया।

यह खबर भी पढ़ें: बाढ़ पीड़ितों ने जवानों को बांधी राखी, कहा शुक्रिया

जम्मू कश्मीर के सांबा, कठुआ,कालाकोट,पुंछ,राजौरी, कुपवाडा, सूरनकोट, रियासी आदि अनेक दुर्गम व सीमावर्ती स्थानों पर धारा 370 के जश्न समारोह में शरीक होकर वापस लौटने पर आयोजित महापंचायत मे गुर्जर सरदारों ने कहा कि आजादी के 70 साल बाद पहली बार वह धारा 370 के हटने पर सच्ची आजादी महसूस कर रहे हैं,कश्मीर के प्रसिद्ध संगठन गुर्जर बकरवाल फेडरेशन के अध्यक्ष असद चौहान एवं सामाजिक कार्यकर्ता कबीर खारी ने उत्तर प्रदेश गुर्जर प्रतिनिधि मंडल से कहा कि कश्मीर का गुर्जर समाज पिछले 70 साल से कश्मीर की रक्षा के लिए अनेकों कुर्बानी देता आया है।

एक ओर जहां पाक परस्त संगठन व आतंकवादी उन पर तरह-तरह के जुल्म ढाते रहे,वहीं जम्मू-कश्मीर की सियासत में रहने वाले नेताओं ने भी गुर्जर समाज को हमेशा उपेक्षा तथा उत्पीड़न के दायरे में रखा जिससे गुर्जर समाज हमेशा त्रस्त रहा, लेकिन तमाम विषमताओं के बाद भी गुर्जर समाज के लोग अपने राष्ट्रप्रेम से कभी विमुख नहीं हुए और इसका उदाहरण पिछले दिनों औरंगजेब की शहादत सहित अनेकों ऐसे उदाहरण है। गुर्जर युवकों ने देशभक्ति का परिचय देते हुए कश्मीर की रक्षा के लिए अनेकों कुर्बानी दी,और सेना का हमेशा साथ दिया वहीं गुर्जर महिलाओं ने भी जिसमें माला गुजरी,रुखसाना आदि अनेकों देशभक्त महिलाएं भी पीछे नहीं रही, जिन्हें केन्द्र सरकार ने पद्मश्री से भी नवाजा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पिछले दिनों अपने संबोधन में इन अमर हुतात्माओं का गर्व से स्मरण किया था। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

जम्मू कश्मीर आतंकवाद विरोधी मोर्चा के अध्यक्ष शेर अली चेची के हवाला देते हुए बताया गया कि पाक अधिकृत कश्मीर में भी गुर्जर बकरवाल समुदाय भारी तादाद में है,लेकिन उनके अंदर भी भारत के प्रति देशभक्ति का जज्बा कायम है जिसके लिए पाकिस्तान उन पर तरह-तरह के जुर्म ढाता रहा है वहां के गुर्जर सरदार जम्मू कश्मीर के गुर्जर सरदारों के संपर्क में है और वह अपनी मुक्ति चाहते हैं,इसलिये सरकार से अपील है कि वह पाक अधिकृत कश्मीर की मुक्ति के लिए भी बगैर वक्त गंवाए पहल करें, देश भर का गुर्जर समुदाय कश्मीरी गुर्जरों के साथ एकजुट रहते हुए ऐसी स्थिति में भारतीय सेना के साथ कंधे से कंधा मिलाकर मोर्चा संभाल लेगा।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended