संजीवनी टुडे

सीबीआई ने आनंद ग्रोवर और इंदिरा जयसिंह के कार्यालय और घरों पर मारे छापे

संजीवनी टुडे 11-07-2019 20:40:48

केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा पिछले महीने दर्ज की गई शिकायत पर केंद्रीय जांच ब्यूरो( सीबीआई) ने उच्चतम न्यायालय के वकीलों आनंद ग्रोवर और इंदिरा जयसिंह के दिल्ली और मुंबई में उनके घरों और कार्यालयों पर गुरुवार को छापे मारे हैं।


नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा पिछले महीने दर्ज की गई शिकायत पर केंद्रीय जांच ब्यूरो( सीबीआई) ने उच्चतम न्यायालय के वकीलों आनंद ग्रोवर और इंदिरा जयसिंह के दिल्ली और मुंबई में  उनके घरों और कार्यालयों पर गुरुवार को छापे मारे हैं। सीबीआई ने उनके विरुद्ध कुछ दिन पूर्व विदेशी मुद्रा नियमन कानून के तहत मुकदमा भी दर्ज किया था। 

सीबीआई सूत्रों ने बताया कि तलाशी अभियान के तहत उनके मुंबई स्थित लायंस कलेक्टिव नामक एनजीओ और कुछ सरकारी अधिकारियों के साथ उनके संबंधों की जांच की जा रही है हालांकि  एफआईआर में इंदिरा जयसिंह का नाम नहीं है। इस मामले में भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत इस एनजीओ ने 2006 से 2015 के बीच 32 करोड़ 39 लाख रुपये की धनराशि विदेशी दान के रूप में प्राप्त की थी। एफआईआर के अनुसार प्रथम दृष्टया में मंत्रालय ने 2016 में जांच में पाया कि एनजीओ ने कानून का उल्लंघन किया है। इस पर स्पष्टीकरण मांगा गया पर जवाब से असंतुष्ट होने पर नवंबर 2016 में उसका रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया गया।

जांच रिपोर्ट जो प्राथमिकी का हिस्सा है उसमें 14 बिंदुओं पर कथित उल्लंघन किए जाने की सूची प्रस्तुत की गई है। इसमें राजनीतिक गतिविधियों में कथित संलिप्तता, विदेशी अंशदान का दुरुपयोग उसका, हवाई यात्राओं में इस्तेमाल और नियम प्रारूप जैसी बैठकों, धरना जैसी गतिविधियों पर किये गये फर्जी खर्च को  कागजो पर दिखाया जाना  शामिल है। साथ ही एचआईवी/ एड्स विधेयक के प्रारूप को तैयार करने के संबंध में दस्तावेजों से पता चला कि 5 अप्रैल 2010 में 67 सांसदों और 2010 में 99 सांसदों के साथ मीडिया वकालत जैसे कार्यक्रम पर  किये जाने वाले खर्च भी  फर्जी ही थे ।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended