संजीवनी टुडे

बसपा सुप्रीमो ने भतीजे को दी बड़ी जिम्मेदारी, राज्य इकाईयों के गठन की करेंगे निगरानी

संजीवनी टुडे 22-02-2020 22:47:52

मायावती की बैठक को लेकर बसपा कार्यालय द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति भी जारी की गई है, लेकिन इस विज्ञप्ति में राज्य इकाईयों के पुर्नगठन की चर्चा नहीं है।


नई दिल्ली। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) उत्तर प्रदेश समेत सभी राज्यों की भंग चल रही प्रदेश इकाईयों का गठन जल्द ही करेगी। पार्टी सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को देश की राजधानी दिल्ली में विशेष राष्ट्रीय बैठक आयोजित कर इस आशय का संकेत दिया।

बसपा सूत्रों के अनुसार मायावती ने देश की सभी भंग राज्य इकाईयों के पुर्नगठन की प्रकिया प्रारम्भ करने को कहा है। सूत्र बताते हैं कि मायावती ने इस कार्य की निगरानी का जिम्मा पार्टी के दो वरिष्ठ नेताओं आकाश आनंद और रामजी गौतम को सौंपा है। इनमें आकाश आनंद बसपा सुप्रीमो के भतीजे हैं। उन्हें उत्तर प्रदेश का विशेष प्रभार दिया गया है। 

मायावती की बैठक को लेकर बसपा कार्यालय द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति भी जारी की गई है, लेकिन इस विज्ञप्ति में राज्य इकाईयों के पुर्नगठन की चर्चा नहीं है। 

विज्ञप्ति के अनुसार बसपा सुप्रीमो ने मुसलमानों से अपील की है कि वे भावनाओं में न बहें, बल्कि मौके की नजाकत को समझते हुए पूरी सूझबूझ से काम लें। राष्ट्रीय बैठक को संबोधित करते हुए मायावती ने मुसलमानों से कहा कि  पहले कांग्रेस ने ‘‘इमोशनल’’ राजनीति करके मुस्लिम समाज का लगातार घोर शोषण किया। उन्होंने आगे कहा कि अब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कांग्रेस से दो कदम आगे बढ़कर उनकी भावनाओं को लगातार भड़काने वाला काम करके उन्हें नये-नये तरीके से प्रताड़ित करने का काम कर रही है। मायावती ने कहा  िकइस तरह के उत्पीड़न के विरूद्ध बसपा का संघर्ष हमेशा की तरह अब भी लगातार जारी है और आगे भी जारी रहेगा।

अपने सम्बोधन में मायावती ने कहा कि बसपा एक राजनीतिक पार्टी होने के साथ-साथ देश की एकमात्र अम्बेडकरवादी सामाजिक मूवमेन्ट है और इसीलिए गलत सरकारी नीति व सरकारी दमन व आतंक का विरोध करने का उसका तरीका अन्य विरोधी पार्टियों से काफी अलग है। उन्होंने कहा कि सरकार के खिलाफ बसपा द्वारा कोई भी विरोध, धरना-प्रदर्शन आदि कानूनी तौर पर व पूरी तरह अहिंसक तरीके से होता है ताकि बहुजन समाज को हर प्रकार की सरकारी जुल्म-ज्यादती व आतंक से बचाकर रखा जा सके। 

इस दौरान उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने केंद्र और उप्र की भाजपा सरकारों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकारें विशेषकर उप्र की योगी सरकार संविधान व कानून की हर मान-मर्यादा को त्याग कर सरकारी तंत्र का घोर निरंकुश प्रयोग करके विरोधी लोगों पर गलत मुकदमों के माध्यम से जेलों में कैद कर रही है। 

 करीब दो घंटे चली इस बैठक में बसपा के महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा, उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष मुनकाद अली समेत पार्टी के सभी सांसद व विधायक मौजूद रहे।

सोनभद्र में स्वर्ण धातु की मात्रा 3.03 ग्राम प्रति टन, 160 किलो ही निकलेगा सोना

जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में  बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended