संजीवनी टुडे

आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा के 90 सांसदों का कट सकता है पत्ता

संजीवनी टुडे 20-09-2018 14:23:11


नई दिल्ली। फरीदाबाद के सरकारी होटल राजहंस में 14,15,16 जून को संघ व भाजपा संगठन के बड़े नेताओं की हुई बैठक में जो निर्णय हुआ, उसको लेकर भाजपा के बहुत से सांसद परेशान हो गए हैं।

2019 लोकसभा चुनाव में अपना टिकट कटने का भय सताने लगा है। बैठक में शामिल हुए संघ के संगठन मंत्रियों से अपने-अपने प्रभार क्षेत्र में पड़ने वाले सभी संसदीय सीटों की सामाजिक-राजनीतिक समीकरण का विस्तृत विवरण,सांसद के कार्यों, क्षेत्र की समस्यों के बारे में जुलाई 2018 के अंत तक रिपोर्ट देने को कहा गया है।


सूत्रों के अनुसार लगभग 90 सासदों के टिकट कटने की संभावना है जिनसे जनता में नाराजगी, जिन पर भ्रष्टाचार के आरोप के मामले की रिपोर्ट आएगी, उनका टिकट काट कर पार्टी के दूसरे कार्यकर्ता को दिया जाएगा।

दोनों राज्यों में भाजपा को लोकसभा की अधिक सीटें हारने की आशंका हैइसलिए इन राज्यों में जिस ससंदीय सीटों पर भाजपा सांसदों के कामकाज व व्यवहार की अधिक शिकायत है, उनके टिकट काट कर अपने किसी अन्य कार्यकर्ता को दिया जाएगा।

राज्यसभा के आधे से अधिक भाजपा सांसदों को न तो टिकट दिया जाना चाहिए, न ही संगठन व सत्ता में कोई पद। किस तरह से जातिवाद व अन्य कई कारण से राज्यसभा सांसद बनाये गये हैं , किस तरह से अन्य पार्टी के भ्रष्टाचार आरोपी व विवादित लोगों को पार्टी में लाकर टिकट दिया गया है, मंत्री बनाया गया है, यह सबके सामने है। 


ऐसे में जिन कार्यकर्ताओं ने जिंदगीभर नेताओं का झोला ढोया, दरी बिछाई, संगठन के लिए काम किया, वह आज यदि सांसद हैं और एक रिपोर्ट को आधार बनाकर अगले लोकसभा चुनाव में उसका टिकट काट दिया जाएगा, तो उस पर क्या बीतेगी यह सबको पता है। ऐसे में उनमें से बहुत से लोग चुप नहीं बैठेंगे।

2.40 लाख में प्लॉट जयपुर: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में Call:09314166166

MUST WATCH & SUBSCRIBE

संघ व भाजपा के बहुत से संगठन मंत्री ऐसे हैं जिन पर जातिवाद और सेवा सुविधा के प्रभाव में आकर किसी को आगे बढ़ाने, किसी को काटने के आरोप लगते रहे हैं। ऐसे पदाधिकारी अपनी जाति के लोगों को टिकट दिलाने, दूसरी जाति के लोगों का टिकट कटवाने के लिए विरोध में रिपोर्ट दे सकते हैं।

sanjeevni app

More From national

Trending Now
Recommended