संजीवनी टुडे

बड़ी खबर: लॉकडाउन बढ़ेगा या नहीं, PM मोदी कल करेंगे मुख्यमंत्रियों से संवाद

संजीवनी टुडे 10-04-2020 16:29:15

कोविड-19 (कोरोना वायरस) के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से शनिवार को बात करेंगे। इस दौरान वह मुख्यमंत्रियों से लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने पर विचार-विमर्श कर सकते हैं।


नई दिल्ली। कोविड-19 (कोरोना वायरस) के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से शनिवार को बात करेंगे। इस दौरान वह मुख्यमंत्रियों से लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने पर विचार-विमर्श कर सकते हैं।

मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मुख्यमंत्रियों से संवाद करेंगे। इस दौरान वह कोरोना वायरस की महामारी और राज्यवार स्थिति की समीक्षा करेंगे। सूत्रों के मुताबिक, प्रधामंत्री मुख्यमंत्रियों से बातचीत के दौरान लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने के मुद्दे पर मशविरा करेंगे। कई राज्य सरकारें लॉकडाउन की अवधि बढ़ाए जाने के पक्ष में हैं। ओडिशा में तो राज्य सरकार ने पहले ही लॉकडाउन की अवधि 30 अप्रैल तक बढ़ा दी है। उत्तराखंड कैबिनेट ने भी लॉकडाउन की समय सीमा बढ़ाने के लिए बकायदा प्रस्ताव पारित किया है।

पंजाब में लॉकडाउन की अवधि बढ़नी तय है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह जल्द ही इसकी घोषणा कर सकते हैं। क्योंकि पंजाब के मोहाली जिले के एक गांव में 22 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित मिले हैं। यह देश में पहला ऐसा मामला है जहां एक गांव में ही इतनी तादाद में इस महामारी से संक्रमित लोग पाए गए। उधर, महाराष्ट्र में भी हालात ठीक नही हैं। महाराष्ट्र सरकार ने भी इस बात के संकेत दिए हैं कि वह फिलहाल प्रदेश में पूरी तरह से लॉकडाउन खत्म करने के पक्ष में नहीं है। महाराष्ट्र देश का वह राज्य है जो कोरोना के कहर से सबसे अधिक प्रभावित है और यहां 1300 से अधिक केस सामने आ चुके हैं।

हाल ही में मोदी ने विभिन्न राजनीतिक दलों के शीर्ष नेताओं के साथ बैठक की थी। विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुई इस बैठक में तमाम दलों के नेताओं ने इस संक्रामक रोग से निपटने के लिए प्रधानमंत्री को लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने की सलाह दी थी। बैठक में प्रधानमंत्री ने सभी नेताओं की राय लेने के बाद मुख्यमंत्रियों से इस बारे में चर्चा के बाद फैसला लेने का संकेत दिया था। ऐसे में समझा जा रहा कि शनिवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा के बाद देश में लॉकडाउन की अवधि बढ़ सकती है।

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री ने गत दो अप्रैल को भी विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों से संवाद किया था। इस दौरान उन्होंने इस बातचीत के दौरान मुख्यमंत्रियों से कहा था कि कोरोना महामारी से लड़ने तथा पूर्णबंदी (लॉकडाउन) खत्म होने के बाद सामान्य जीवन की बहाली के लिए एक व्यापक योजना तैयार की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों को मिलकर ऐसी योजना बनानी चाहिए जिससे सामान्य स्थिति फिर से जल्द बहाल हो। मोदी हाल के दिनों में खेल, मीडिया, सामाजिक संगठन और विभिन्न देशों के शीर्ष नेताओं से लगातार वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संवाद कर रहे हैं।

यह खबर भी पढ़े: झारखंड/ जंगल में टेंट लगाकर छुपे थे तबलीगी जमात के लोग, छापेमारी में भागे सभी संदिग्ध

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended