संजीवनी टुडे

नेहरू की गलती की वजह से चीन अजहर मसूद को बार-बार बचाने में कामयाब हो रहा है : सुशील मोदी

संजीवनी टुडे 14-03-2019 21:22:18


पटना। उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सुरक्षा परिषद में मसूद अजहर को आंतकी घोषित करने के प्रस्ताव पर चीन के वीटो लगाने की आलोचना करते हुये इसके लिए भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर नेहरू को कठघरे में खड़ा किया है। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

गुरुवार को किये गये अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि जवाहर लाल नेहरू ने भारत को मिलने वाली सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता ठुकरा कर चीन के चरणों में यह ताकत सौंपने की जो भारी गलती की थी, उसी का इस्तेमाल कर वह बार-बार आतंकी अजहर मसूद को बचाने में कामयाब हो रहा है। 

नेहरू की विदेश और रक्षा नीति की त्रासद विफलता 1962 के चीनी हमले के रूप झेलनी पड़ी। उन्होंने लिखा है कि चीन पर कुछ बोलने से पहले राहुल गांधी को अपने ग्रेट ग्रैंडफादर की हिमालयी भूलों के लिए देश से बार-बार माफी मांगनी चाहिए। सुशील कुमार मोदी लिखा कि चीनी सेना ने जब डोकलाम में घुसने की कोशिश की, तब राहुल गांधी चीनी दूतावास के अधिकारियों से मिल रहे थे। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

मानसरोवर यात्रा के बहाने वे चीनी विदेश मंत्री से मिले। भारत को हेंकड़ी दिखाने की कोशिश करने वाले चीन से अगर उनका पुश्तैनी लगाव इतना गहरा है, तो वे अजहर मसूद को चीनी समर्थन के कवच से बाहर करने में अपने प्रभाव का इस्तेमाल क्यों नहीं करते? उन्हें भारत को दुखी करने वाली हर बात जिस तरह से खुश करने लगी हैं, उससे वे उस खलनायक की तरह बनते जा रहे है, जिसका यह डायलाग मशहूर हुआ था - मोगैंबो खुश हुआ।

More From national

Loading...
Trending Now