संजीवनी टुडे

निर्भया/ डेथ वारंट जारी होने के बाद दोषियों की बेचैनी बढ़ी, जेल अधिकारियों ने एक बार फिर किया फांसी घर का निरीक्षण

संजीवनी टुडे 18-02-2020 22:53:28

निर्भया के दोषियों के नए डेथ वारंट जारी होने के बाद मंगलवार को जेल अधिकारियों ने एक बार फिर फांसी घर का निरीक्षण किया। परिसर का जायजा लेने के बाद अधिकारियों ने इसकी रिपोर्ट वरिष्ठ अधिकारियों को भेजी है।


नई दिल्ली। निर्भया के दोषियों के नए डेथ वारंट जारी होने के बाद मंगलवार को जेल अधिकारियों ने एक बार फिर फांसी घर का निरीक्षण किया। परिसर का जायजा लेने के बाद अधिकारियों ने इसकी रिपोर्ट वरिष्ठ अधिकारियों को भेजी है। सूत्रों का कहना है कि बुधवार को एक बार फिर लोक निर्माण विभाग के अधिकारी भी फांसी घर का मुआयना करेंगे और अगर किसी भी तरह की मरम्मत की आवश्यकता होगी तो उसे किया जाएगा।

उधर जेल संख्या तीन के जेल अधीक्षक कार्यालय में दोषियों के परिजनों को डेथ वारंट जारी होने की औपचारिक जानकारी देने की तैयारी की जा रही थी। जेल के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार एक दो दिन में दोषियों के परिवार वालों को दोषियों से अंतिम मुलाकात की तारीख बताई जाएगी। इसको लेकर जेल अधिकारी दोषियों से बातचीत कर रहे हैं। उनके बताए दिन के अनुसार ही वह तारीख तय की जाएगी।

जब तक अंतिम तारीख तय नहीं होती है दोषी अन्य दिनों की तरह एक सप्ताह में दो दिन अपने परिवार वालों से मिल पाएंगे। इससे पहले निर्भया के दोषियों के लिए दो बार डेथ वारंट जारी हो चुका है। दोनों ही डेथ वारंट के दौरान दोषियों की अपने परिवार वालों से सामान्य मुलाकात होती रही है।

डेथ वारंट जारी होने के बाद दोषियों की बेचैनी बढ़ी
जेल सूत्रों का कहना है कि एक बार फिर डेथ वारंट जारी होने के बाद दोषियों की बेचैनी बढ़ गई है। अधिकारियों के मुताबिक दोषियों ने यह मान लिया है कि उन्हें फांसी जरूर होगी। ऐसे में वह अपने सेल में ही चुपचाप बैठे रहते हैं। लेकिन विनय अपने सेल में चहलकदमी करता रहता है। जेल प्रशासन की ओर से दोषियों पर पैनी निगाह रखी जा रही है। साथ ही सीसीटीवी में उनकी हर हरकत को गौर से देखा जा रहा है।

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान बजट/ आकड़ों की दिखेगी जादूगरी, वित्त मंत्री के तौर पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की कड़ी परीक्षा

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended