संजीवनी टुडे

Arunachal Pradesh: सेना व पुलिस से मुठभेड़ में NSCN के छह कैडर ढेर, भारी मात्रा में हथियार व गोला-बारूद बरामद

संजीवनी टुडे 11-07-2020 15:39:35

अरुणाचल प्रदेश के लोंगडिंग जिला के खोंसा इलाके इलाके में सेना की 06वीं असम रायफल व लोंगडिंग पुलिस ने शनिवार की तड़के अभियान चलाते हुए मुठभेड़ में नगालैंड के प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन नेशनल सोसलिस्ट काउंसिल आफ नगालीम- इसाक मुइवा (एनएससीएन-आईएम) के छह कैडरों को ढेर कर दिया।


इटानगर। अरुणाचल प्रदेश के लोंगडिंग जिला के खोंसा इलाके इलाके में सेना की 06वीं असम रायफल व लोंगडिंग पुलिस ने शनिवार की तड़के अभियान चलाते हुए मुठभेड़ में नगालैंड के प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन नेशनल सोसलिस्ट काउंसिल आफ नगालीम- इसाक मुइवा (एनएससीएन-आईएम) के छह कैडरों को ढेर कर दिया। मारे गए सभी उग्रवादी 25 से 40 वर्ष के बीच बताए गए हैं। मौके से भारी मात्रा में हथियार, गोला-बारूद आदि बरामद किया गया है।

अरुणाचल पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गुप्त सूचना के आधार पर लोंगडिंग जिला में काफी समय से अभियान चलाया जा रहा था। सूत्रों ने बताया है कि शुक्रवार को गुप्त सूचना के आधार पर सुरक्षा एजेंसियों को सूचना मिली थी कि एनएससीएन (आईएण) के स्वयंभू कैप्टन सोमनीम तांगखुल के नेतृत्व में 06 उग्रवादियों की एक टीम लोंगडिंग जिला के वाखा सर्कल के निगुनु में डेरा डाले हुए हैं। उग्रवादी बाजार अध्यक्ष व सचिव के अपहरण की योजना योजना बना रहे हैं।

सूचना के आधार पर 06वीं असम रायफल के सीओ और लोंगडिंग जिला के पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में एक संयुक्त टीम ने तड़के लगभग 04.30 बजे नगीनू और नगीसा के बीच जंगलों में अभियान आरंभ किया। कुछ देर बाद मौके पर अन्य सुरक्षा बलों की टीम पहुंचकर पूरे इलाके को घेर लिया। लगभग 01.30 से 02 घंटे तक दोनों ओर से गोलाबारी जारी रही। मौके पर ही सभी 06 उग्रवादियों को सुरक्षा बलों ने ढेर कर दिया।

लोंगडिंग पुलिस ने इस संबंध में 36/2020 यू/एस 307/34 आईपीसी, 27 आर्म्स एक्ट, 6 ए (2) विस्फोटक अधिनियम 6 एआर की के तहत प्राथमिकी दर्ज किया है।आगे की जांच जारी है।

मौके से 04 एके-47 रायफल, 02 एमक्यू -81 रायफल, 09 मैगजीन, 01 हैंड ग्रेनेड, 02 आईईडी (4किग्रा वजनी टिफिन बॉक्स आईईडी और 01 किग्रा वजनी पाइप आईईडी), लगभग 1000 मीटर लंबा बिजली के तार, 400 राउंड जीवित कारतूस के अलावा अन्य कई आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई है।

सूत्रों ने बताया है कि जंगल में झोपड़ी बनाकर सभी उग्रवादी छुपे हुए थे। उग्रवादियों का यह गुट अरुणाचल के विधायक तिरोंग आबोह की 21 मई, 2019 में हुई हत्या में शामिल था।

यह खबर भी पढ़े: Mumbai: धारावी में कोरोना नियंत्रण पर WHO ने जताई खुशी, कहा- आक्रामक कार्रवाई से पाया जा सकता हैं छुटकारा

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended