संजीवनी टुडे

सेना ने कई आतंकवादी तथा ‘बैट’ हमलों को विफल किया : जनरल रावत

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 15-10-2019 22:55:40

बिपिन रावत ने आज कहा कि सेना ने सीमा पर विषम परिस्थितयों के बावजूद पाकिस्तान की ओर से बार्डर एक्शन टीम ‘बैट’ के हमलों को विफल किया तथा घाटी में भी आतंकवादियों के मंसूबों को सफल नहीं होने दिया।


नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने आज कहा कि सेना ने सीमा पर विषम परिस्थितयों के बावजूद पाकिस्तान की ओर से बार्डर एक्शन टीम ‘बैट’ के हमलों को विफल किया तथा घाटी में भी आतंकवादियों के मंसूबों को सफल नहीं होने दिया।

यह खबर भी पढ़ें: ​अयोध्या : हिन्दू, मुस्लिम पक्ष के वकीलों की नोकझोंक की गवाह बनी सुनवाई

जनरल रावत ने यहां सैन्य कमांडरों के सम्मेलन के दूसरे दिन मंगलवार को अपने संबोधन में जवानों और अधिकारियों की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने पश्चिमी और पूर्वी सीमाओं पर तथा आंतरिक इलाकों में दृढतापूर्वक चुनौतियों का सामना किया है। सभी ने गंभीरता और समर्पण के साथ अपने दायित्व का निर्वहन करते हुए पाकिस्तान की ओर से बार्डर एक्शन टीम (बैट) के हमलों को विफल किया है। साथ ही उन्होंने आंतरिक इलाकों में आतंकवादी हमलों को नाकाम कर आतंकवादियों के मंसूबों पर पानी फेर दिया।

सेना प्रमुख ने अभियानों के दौरान फील्ड में सैनिकों और जुनियर अफसरों के नये-नये तरीकों और उनकी चतुराई तथा कौशल का उल्लेख करते हुए कहा कि यह खुशी की बात है कि सैनिकों ने नियंत्रण रेखा और आंतरिक इलाकों में अपने रणकौशल से स्थिति का बेहतर तरीके से मुकाबला किया।

जनरल रावत ने विभिन्न अभियानों की समीक्षा के आधार पर राष्ट्रीय जांच एजेन्सी एनआईए की भूमिका की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि जांच एजेन्सी की मेहनत से अनेक मामलों में दोषियों को सजा मिली है। जांच एजेन्सी और सुरक्षा बलों के बीच बेहतर तालमेल का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि इससे अभियानों में सफलता मिली है। उन्होंने कहा कि इस तालमेल को और मजबूत बनाये जाने की जरूरत है।

सैन्य कमांडरों का सम्मेलन सोमवार को शुरू हुआ था। सम्मेलन में चर्चा के दौरान चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में फील्ड में तैनात जवानों की जरूरतों को समय से पूरा करने पर जोर दिया गया। शीर्ष कमांडरों ने सेना की तैयारियों का भी जायजा लिया।

मात्र 13.21 लाख में अपने ख़ुद के मकान का सपना करें साकार, सांगानेर जयपुर में बना हुआ मकान कॉल - 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended