संजीवनी टुडे

सेना के कर्मचारी को 15 दिनों के अंदर मिलेगा न्याय : काम्बोज

संजीवनी टुडे 18-02-2019 17:34:33


कुरुक्षेत्र। हरियाणा के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले राज्यमंत्री कर्णदेव काम्बोज ने कहा कि सेना के कर्मचारी सतबीर सिंह को 15 दिनों के अंदर न्याय दिया जाएगा। इस मामले में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को तुरंत तथ्यों सहित रिपोर्ट सौंपने के आदेश भी दिए है। इतना ही नहीं इस मामले को गम्भीरता से लिया जाएगा और किसी प्रकार की लापरवाही भी सहन नहीं की जाएगी।

राज्यमंत्री कर्णदेव काम्बोज सोमवार को पंचायत भवन के सभागार में जिला लोक सम्पर्क एवं कष्ट निवारण समिति की बैठक में लोगों की शिकायतों का निवारण करने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। इससे पहले राज्यमंत्री कर्णदेव काम्बोज, थानेसर विधायक सुभाष सुधा, लाडवा विधायक डा. पवन सैनी, उपायुक्त डा. एसएस फुलिया, पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र पाल सिंह, भाजपा के जिलाध्यक्ष धर्मवीर मिर्जापुर, जिला परिषद के चेयरमैन गुरदयान सुनहेड़ी, ब्लाक समिति थानेसर के चेयरमैन देवी दयाल शर्मा सहित सभी अधिकारियों व कष्टï निवारण समिति के सदस्यों ने पुलवामा में शहीद हुए सैनिकों और पिहोवा से विधायक स्वर्गीय जसविन्द्र सिंह संधू के निधन पर दो मिनट का मौन रखकर श्रृद्धांजलि दी है। राज्यमंत्री ने शहीद सैनिकों को नमन करते हुए और श्रृद्घाजंलि देते हुए कहा कि सैनिकों ने अपने प्राणों को देशपर कुर्बान कर दिया, इस घटना से पूरा देश शहीद सैनिकों को श्रृद्धांजलि देने के साथ-साथ शहीदों के परिजनों के साथ खड़ा है।

उन्होंने कहा कि हाउस में भी सेना के जवान सतबीर सिंह को न्याय दिलाने के लिए अधिकारियों को सिर्फ 15 दिनों का टाईम दिया है, इस सेना के अधिकारी ने हाउस के समक्ष शिकायत रखी कि 29 सितम्बर 2018 को उनकी पत्नी की डिलीवरी के लिए एक महिला चिकित्सक द्वारा आप्रेशन किया गया, यह आप्रेशन जल्दबाजी में किया गया और इससे पहले कोई चैकअप भी नहीं किया गया। चिकित्सकों द्वारा लापरवाही बरती गई और उनकी पत्नी के लीवर, किडनी को गहरी क्षति पहुंची और 2 अक्टूबर 2018 को माया अस्पताल मोहाली में दाखिल करवाया गया और बाद में 14 अक्टूबर 2018 को पीजीआई चंडीगढ़ में उनकी पत्नी का देहांत हो गया। इस शिकायत पर डिप्टी सीएमओ डा. एनपी सिंह ने भी अपनी रिपोर्ट रखी। इन तमाम तथ्यों को संज्ञान में लेते हुए राज्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी 15 दिनों के अंदर इस मामले की रिपोर्ट देंगे और इस मामले को गम्भीरता से लेकर तथ्य जुटाएंगे। इस मामले में प्रार्थी को शीघ्र न्याय दिया जाएगा और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। 

उन्होंने लाडवा निवासी कैंथला खुर्द निवासी रणसिंह, बारना निवासी नारायण दत्त, पिपली निवासी शिवकुमार सहित अन्य लोगों द्वारा हाउस में रखी गई विभिन्न विभागों से सम्बन्धित रख गई समस्याओं का समाधान करते हुए और कई शिकायतों की रिपोर्ट को अगली बैठक में तथ्यों सहित रखने के आदेश देते हुए कहा कि सभी अधिकारी लोगों की शिकायतों को गम्भीरता से लें और प्रार्थियों को शीघ्र अति शीघ्र न्याय मिल सके। इस बैठक में उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने मेहमानों का स्वागत किया। इस बैठक में सम्बन्धित विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

पिहोवा आउटसोर्सिंग मामले में दर्ज होगी एफआईआर
सीएचसी पिहोवा से सुनील कुमार व अन्य कर्मचारियों ने पिछले साल अगस्त माह में सीएचसी पिहोवा में आउटसोर्सिंग के तहत कर्मचारियों को रातो रात स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने ठेकेदार से मिलकर सूचि बदलने के तथ्य रखे, इस मामले में एसडीएम पिहोवा ने भी तथ्यों सहित अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की। इस रिपोर्ट का अवलोकन करने के उपरांत राज्यमंत्री ने एसडीएम पिहोवा को कर्मचारियों द्वारा दिए गए शपथ पत्र और जांच रिपोर्ट के बाद दोषी के खिलाफ तुंरत एफआईआर दर्ज करवाने के आदेश दिए है।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

सीएचसी झांसा पर ताला लगाने के मामले में अधिकारी 10 दिन के अंदर सौंपे रिपोर्ट
राज्यमंत्री कर्णदेव काम्बोज ने सीएचसी झांसा के सहायक नरोतम दास द्वारा आउटसोर्सिंग व अन्य कर्मचारियों द्वारा चिकित्सा संस्थान के मुख्य द्वार पर ताला लगाए जाने की शिकायत पर कड़ा संज्ञान लेते हुए अधिकारियों को आदेश दिए कि इस मामले में 10 दिन के अंदर रिपोर्ट सौंपी जाए ताकि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जा सके।

करंट लगने से हुई मौत के मामले में गठित की तकनीकी कमेटी
गांव जडोला निवासी खजान सिंह ने हाउस के समक्ष शिकायत रखी कि उसके भाई की बिजली विभाग की लापरवाही के कारण करंट लगने से मौत हो गई। इस मामले में एक्सईन कुरुक्षेत्र ने तथ्यों सहित अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की। राज्यमंत्री ने दोनो पक्ष जानने के बाद प्रार्थी को न्याय दिलवाने के लिए एक तकनीकी कमेटी से जांच करवाने के आदेश दिए। इस तकनीकी कमेटी में गैर सरकारी सदस्य जयसिंह पाल और लाडी पाल सहित दो तकनीकी अधिकारियों को शामिल करने के आदेश दिए। यह कमेटी तमाम तथ्यों पर अध्ययन करेंगी और मैरिट पर अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

डीडीपीओ को दिए रिपोर्ट सौंपने के आदेश
गांव ठोल निवासी रमेश कुमार की शिकायत पर गांव में गंदे पानी की निकासी को लेकर डीडीपीओ कपिल शर्मा को खुद मौके का मुआयना कर शीघ्र रिपोर्ट सौंपने के आदेश दिए। इस शिकायत को राज्यमंत्री ने गम्भीरता से लिया और प्रार्थी को शीघ्र न्याय दिया जाएगा।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

खराब फसल के मुआवजे पर डीडीए गम्भीरता से ले मामले को
गांव प्रतापगढ़ निवासी छतरपाल ने ज्यादा बरसात से सवा 3 एकड़ धान की फसल खराब होने की रिपोर्ट कृषि विभाग में दर्ज करवाने की एक शिकायत हाउस के समक्ष रखी और मुआवजा दिलवाने की फरीयाद भी की। इस मामले पर कृषि विभाग के डीडीए की रिपोर्ट को सुनने के उपरांत राज्यमंत्री कर्णदेव काम्बोज ने कहा कि फसल खराबे के इस मामले पर कृषि विभाग तुरंत कार्रवाई करे और मुआवजा दिलवाने में देरी न लगाए।

More From national

Loading...
Trending Now