संजीवनी टुडे

भारत पर मंडरा रहा है एक और खतरा, 'अम्फान' के बाद अब 'हिका चक्रवात' दे रहा है दस्तक, 120 किलोमीटर प्रति घंटा होगी रफ्तार

संजीवनी टुडे 01-06-2020 08:48:33

भारतीय मौसम विभाग की ओर से अलर्ट जारी किया गया है कि गुजरात में दो समुद्री तूफानों का खतरा मंडरा रहा है।


डेस्क। भारत पर मंडरा रहे कोरोना खतरे के बीच हाल ही में अम्फान तूफान ने काफी तबाही मचाई और अब इसी बीच देश में अब एक और खतरा ‘हिका’ तूफान के नाम से मंडरा रहा है। अरब सागर में गहरे दबाव का क्षेत्र बनने से चक्रवाती तूफान ‘हिका’ तेज हो गया है। फलस्वरूप गुजरात के तट पर प्रचंड हवा चलेगी। भारतीय मौसम विभाग ने सोमवार को यह बात कही।

भारतीय मौसम विभाग की ओर से अलर्ट जारी किया गया है कि गुजरात में दो समुद्री तूफानों का खतरा मंडरा रहा है। पहला तूफान एक से तीन जून के बीच तटीय इलाकों से टकरा सकता है, जबकि दूसरा हिका नाम का चक्रवात चार से पांच जून के बीच गुजरात के द्वारका, ओखा और मोरबी से टकराता हुआ कच्छ की ओर जा सकता है। 

Weather

प्रशासन ने फिलहाल अरब सागर के डीप डिप्रेशन के चलते गुजरात के समुद्री तटीय इलाकों में एक नंबर का सिग्नल जारी किया है। माना जा रहा है कि जब यह चक्रवात जमीन से टकराएगा उस वक्त हवा की गति 120 किलोमीटर प्रति घंटा रहेगी। 

मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 48 घंटे के दौरान दक्षिण पूर्व और पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनेगा और इससे आगे तेजी से बढ़ता जाएगा। तीन जून तक गुजरात और उत्तर महाराष्ट्र के तटों पर टकराने के बाद उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने की आशंका है। गुजरात में इस चक्रवात से सौराष्ट्र, पोरबंदर, अमरेली, जूनागढ़, राजकोट और भावनगर आदि जिलों को नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है।

Weather
 
मौसम विभाग ने खराब मौसम के मद्देनजर मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है। उसने एक बुलेटिन में कहा, ‘वैसे हिका के गुजरात की ओर आने की आशंका नहीं है लेकिन इससे राज्य के तट पर प्रचंड हवा चलेगी।’

रविवार सुबह उत्तर पूर्व और उससे लगे पूर्व मध्य अरब सागर में गहरे दबाव का क्षेत्र बनने से चक्रवाती तूफान हिका पश्चिम की ओर थोड़ा आगे बढ़ने के बाद मजबूत हो गया। मौसम विभाग के अनुसार सोमवार को साढ़े ग्यारह बजे हिका गुजरात के वेरावल के पश्चिम-दक्षिण पश्चिम में करीब 490 किलोमीटर, पाकिस्तान के कराची के दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में 520 किलोमीटर तथा ओमान के मासिराह के पूर्व-दक्षिण पूर्व में 710 किलोमीटर की दूरी पर था।

Weather

विभाग ने कहा, ‘गहरे दबाव के कारण बुधवार को तड़के उसके पश्चिम की ओर थोड़ा आगे बढ़ने और 19 डिग्री उत्तर और 20 डिग्री उत्तर के बीच ओमान तट को पार करने की संभावना है। अगले 24 घंटे के दौरान उसके और तेज होने तथा फिर क्रमिक ढंग से कमजोर होने की संभावना है।’

विभाग ने कहा है कि चक्रवात से गुजरात तट पर अगले 12 घंटे के दौरान 30-40 किलोमटर प्रति घंटे से 50 किलोमीटर प्रति घंटा तक तेज हवा चलेगी। उसने कहा कि समुद्र में स्थिति बहुत खराब रहेगी, ऐसे में मछुआरों को बुधवार तक समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी जाती है।

Weather

मौसम विभाग के अनुसार दक्षिणपूर्व अरब सागर और लक्षद्वीप में आज कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। उम्मीद है कि कल यह और गहराया जाएगा और इसके एक दिन बाद यह साइक्लोन में बदल जाएगा। यह उत्तर की ओर बढ़ेगा और गुजरात के करीब पहुंचेगा। इसके बाद, तीन जून को महाराष्ट्र तट पर पहुंचेगा।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: ये रहा Reliance Jio का अब तक सबसे धांसू प्लान, पुराने दाम पर मिल रहा है डबल डेटा, अभी करें रिचार्ज

यह खबर भी पढ़े: बिहार/Lockdown 5.0/ नीतीश सरकार ने लोगों को दी बड़ी राहत, आज से बस सहित सभी तरह की परिवहन सेवाओं का संचालन शुरू

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended