संजीवनी टुडे

अफवाह से अमन को अगवा करने की कोशिश : नकवी

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 20-12-2019 16:22:03

अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को कहा कि झूठ के झाड़ से सच के पहाड़ को नहीं छुपाया जा सकता है ।


नई दिल्ली। अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को कहा कि ‘‘ झूठ के झाड़ ’’ से “ सच के पहाड़ ” को नहीं छुपाया जा सकता है । नकवी ने यहां मौलाना आज़ाद एजुकेशन फाउंडेशन एवं केंद्रीय वक्फ कौंसिल की संयुक्त बैठक में कहा कि नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर बेबुनियाद और झूठी कहानियाँ गढ़ , अफ़वाह से अमन को अगवा करने की कोशिश हो रही है। 

यह खबर भी पढ़ें: जयशंकर ने कनाडा को दी जम्मू-कश्मीर के बारे में ‘सटीक समझ’

उन्होंने कहा कि मौलाना आज़ाद एजुकेशन फाउंडेशन , केंद्रीय वक्फ़ कौंसिल के सदस्य देश भर में शैक्षिक संस्थानों , धार्मिक प्रतिनिधियों , गैर-सरकारी संगठनों , आम लोगों से संपर्क-संवाद कर समाज के बड़े वर्ग में पैदा की जा रही ‘ सियासी साजिश ’ से भरपूर गलतफ़हमी को दूर कर सच्चाई की ताकत से झूठ और दुष्प्रचार को बेनकाब करने का अभियान शुरू करेंगे।

नकवी ने कहा कि हमें पूरी तरह से होशियार रहना चाहिए , ऐसी साज़िशों से जो समाज के सौहार्द के ताने-बाने को अपने सियासी फायदे के लिए तार-तार करने पर उतारू हैं। ‘ एनआरसी के नाम पर अनार्की ’ इसी का जीता-जागता प्रमाण है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1951 से असम में चल रही एनआरसी प्रक्रिया सिर्फ असम तक सीमित है , देश के किसी अन्य हिस्से में यह लागू नहीं है। एनआरसी को मुसलमानों की नागरिकता से जोड़ना सफ़ेद झूठ ही नहीं भ्रम एवं भय का भूत खड़ा करने की कोशिश है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended