संजीवनी टुडे

नोटबंदी ने तोड़ी माओवादियों की कमर, एक महीने में सबसे ज्यादा नक्सलियों ने किया सरेंडर

संजीवनी टुडे 29-11-2016 09:59:01

नई दिल्ली। माओवाद प्रभावित राज्यों में सरकार की नीति और पिछले कुछ महीनों में सुरक्षाबलों की तरफ से बनाए गए दबाव के बाद अब नोटबंदी का पूरे क्षेत्र में व्यापक असर देखने को मिल रहा है। पिछले 28 दिनों के अंदर अब तक कुल 564 माओवादी और उनके समर्थकों ने सरेंडर किया है। एक माह के अंदर इतनी बड़ी संख्या में माओवादियों का सरेंडर एक रिकॉर्ड है।

हालांकि, माओवादियों पर कार्रवाई में सीआरपीएफ के साथ छत्तीसगढ़, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश में स्थानीय पुलिस की अहम भूमिका रही है तो वहीं पुराने 500 और 1000 रूपये के नोट पर लगे प्रतिबंध ने इस काम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

अधिकारियों के अनुसार, 564 में से 469 माओवादी और उनके समर्थकों ने 8 नवंबर के बाद से अब तक अपना सरेंडर किया है। 8 नवंबर को ही प्रधानमंत्री की तरफ से 500 और 1000 रूपये के पुराने नोट को बैन करने की घोषणा की गई थी। सरेंडर करने वाले माओवादियों में 70 फीसदी ओडिशा के मल्कानगिरी के हैं।

यह भी पढ़े: ये खूबसूरत लड़की बिना अंडरवियर के शोरूम में शॉपिंग करने पहुंची

यह भी पढ़े: यहां लॉटरी जीतने के बाद, पैसों के बजाए मिलती हैं लड़कियां।

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: ये खूबसूरत लड़किया- सड़क किनारे मिनी स्कर्ट में अपना बिजनेस चला रही हैं।

sanjeevni app

More From national

Trending Now
Recommended