संजीवनी टुडे

खुशखबरी! 178 वस्तुओं पर GST दर 28 प्रतिशत से घटकर 18 प्रतिशत

संजीवनी टुडे 11-11-2017 08:23:17

Good News GST rate on 178 items decreased from 28 percent to 18 percent

गुवाहाटी। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शुक्रवार को कहा कि वस्तु एवं सेवा कर परिषद (जीएसटी) ने 178 वस्तुओं पर जीएसटी दर घटाकर 18 प्रतिशत कर दिया गया है। पहले इन वस्तुओं को 28 प्रतिशत के कर दायरे में रखा गया था। 

दो दिवसीय लंबी बैठक के बाद वित्त मंत्री ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, 'वस्तु एवं सेवा कर परिषद (जीएसटी) ने 178 वस्तुओं को 28 प्रतिशत के कर दायरे से बाहर कर दिया है और अब इन वस्तुओं को 18 प्रतिशत के कर दायरे में लाया गया है। यह इस महीने की 15 तारीख से लागू होगा।'

यह भी पढ़े: इस लड़की ने मोदी से कहा, नोटबंदी से कितना पैसा आया, काला धन निकला, देश को बताए... देखें वीडियो

होटलों में खाने पर एक समान 5% टैक्स
होटलों पर टैक्स दरें-अभी नॉन एसी होटलों, रेस्त्रां में 12 प्रतिशत व एसी होटलों में खाने पर 18 प्रतिशत जीएसटी लिया जाता था। अब यह एक समान 5 प्रतिशत लिया जाएगा।

चूंकि होटल पूर्व में दी गई इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) का लाभ ग्राहकों को नहीं देते थे, इसलिए उसे खत्म कर दिया गया है।

7500 रुपए या इससे ज्यादा एक दिन का रूम किराया वसूलने वाले होटलों के रेस्त्रां में 18 फीसदी जीएसटी लगेगा, लेकिन उन्हें आईटीसी लाभ मिलेगा।

7500 रुपए रोजाना से कम रूम किराया लेने वाले होटलों के रेस्त्रां में 5 फीसदी जीएसटी लगेगा, लेकिन आईटीसी का लाभ नहीं मिलेगा। इन पर भी घटा टैक्स-गिले सामान की पिसाई चक्की व सैन्य वाहनों पर अब 28 की बजाए 12 फीसदी टैक्स लगेगा।

छह वस्तुओं पर कर की दर पहले 18 फीसदी थी, उसे घटाकर 5 फीसदी किया-आठ वस्तुओं पर 12 से घटाकर 5 फीसदी -छह वस्तुओं पर 5 फीसदी टैक्स था, जिसे शून्य कर दिया गया है।

यह भी पढ़े: इंडिगो कर्मचारी ने यात्री को जमीन पर पटक कर पीटा, एयरलाइन ने मांगी माफी, देखें वीडियो

ये वस्तुएं हुईं सस्ती
-चॉकलेट
-कॉन्फेक्शनरी आइट्मस
-च्वुइंगम
-आफ्टर शेव
-डिओड्रैंट
-वाशिंग पाउडर
-डिटर्जेंट
-मार्बल
-ब्यूटी प्रोडक्ट्स
-ग्रेनाइट
-कॉफी, 
-कस्टर्ड पावडर
-डेंटल हाइजिन प्रॉडक्ट्स 
-पॉलिस
-सेनेटरी वेयर
-लेदर के वस्त्र
-विग
-कूकर
-स्टोव

मेक-अप का सामान
शेविंग व ऑफ्टर शेविंग वस्तुएं, शैंपू, डिओड्रेंट, वॉशिंग पावडर, डिटर्जेंट, रेजर, ब्लेड, कटलरी, बैटरी, गॉगल्स, कलाई घड़ियां, गद्दे समेत 178 वस्तुएं।

इन पर 28% GST यथावत
-पान मसाले 
-परफ्यूम्स 
-सिगार 
-शीतल पेय 
-तंबाकू उत्पाद 
-सीमेंट
-ऑइल पेंट्स 
-वॉशिंग मशीन
-बर्तन साफ करने की मशीनें 
-फ्रीज
-एसी
-वैक्युम क्लीनर 
-कार
-दोपहिया वाहन 
-विमान  
-यॉट 

जीएसटी की हैं पांच स्लैब
उल्लेखनीय है कि 1 जुलाई से देश में लागू नई अप्रत्यक्ष कर प्रणाली जीएसटी में कर की पांच स्लैब-0, 5, 12, 18 व 28 फीसदी हैं। 20 हजार करोड़ का नुकसान बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि सिर्फ 50 वस्तुओं को ही 28 फीसदी कर स्लैब में रखना ऐतिहासिक फैसला है। कर घटाने से सरकार को हर साल करीब 20 हजार करोड़ रु. की राजस्व हानि होगी।

जेटली ने कहा, "दो वस्तुओं के कर दायरे को 28 प्रतिशत से घटाकर 12 प्रतिशत कर दिया गया है।" उन्होंने ने यह भी कहा कि परिषद 28 प्रतिशत कर दायरे पर ध्यान दे रही है और इस कर दायरे में मौजूद सभी वस्तुओं को कम कर दायरे में लाने के लिए तार्किक रूप से लगातार काम किया जा रहा है। 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

More From national

loading...
Trending Now
Recommended