संजीवनी टुडे

कर्नाटक सरकार ने बनाई अलग झंडा बनाने के लिए समिति

संजीवनी टुडे 18-07-2017 10:43:33

Committee for making separate flag created by Karnataka government

बेंगलुरु। एक तरफ जहां भाजपा के नेतृत्‍व में केंद्र की एनडीए सरकार एक-देश मंत्र का राग अलाप रही है, वहीं दूसरी तरफ कर्नाटक की कांग्रेस सरकार अपने राज्य की अलग पहचान के लिए राज्य का अलग झंडा चाहती है। झंडे का डिजाइन तैयार करने के लिए सरकार ने 9 सदस्यों की एक कमिटी बनाई है।

यह भी पढ़े: गैंगस्टर अबू सलेम ने टाडा कोर्ट से शादी करने के लिए मांगी अनुमति

उनका कहना है कि इससे राज्य की एक अलग पहचान होगी। इसे कानूनी तौर पर मान्यता देने के लिए एक रिपोर्ट भी जमा की गई है। अगर इसे मंजूरी मिलती है तो कर्नाटक, जम्मू और कश्मीर के बाद आधिकारिक तौर पर खुद का 'झंडा' रखने वाला देश का दूसरा राज्य होगा जो संविधान की धारा 370 के तहत विशेष दर्जा हासिल करेगा।

अगले साल विधानसभा चुनाव से पहले यह कदम उठाया गया है, जबकि 2012 में कर्नाटक का इस संबंध में अलग ही रुख था। तब राज्‍य में भाजपा सरकार थी, जिसने कर्नाटक हाई कोर्ट से कहा था कि वह कन्‍नड़ झंडे को राज्‍य का आधिकारिक झंडा घोषित करने के पक्ष में नहीं है, क्‍योंकि यह देश की एकता और अखंडता के खिलाफ होगा।

2012 में जब यह मुद्दा विधानसभा में उठा था तब उस समय के कल्चर मिनिस्टर गोविंद एम करजोल ने कहा था, 'फ्लैग कोड हमें राज्य के लिए अलग ध्वज की इजाजत नहीं देता है। हमारा राष्ट्रीय ध्वज देश की एकता, अखंडता और सम्प्रभुता का प्रतीक है। यदि राज्य का अलग झंडा होगा तो यह हमारे राष्ट्रीय ध्वज का महत्व भी कम करेगा। ऐसा होने पर लोगों में प्रांतवाद की भावना को भी बढ़ावा मिलेगा।'

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

More From national

loading...
Trending Now
Recommended