संजीवनी टुडे

प्रणव ने लौटाई लाखों की स्कॉलरशिप, स्कूल लेवल मैच में बनाये थे 1,009' रन

संजीवनी टुडे 08-11-2017 18:32:04

Pranav made 1009 runs in the scholarship of the millions returned in school level match

नई दिल्ली। स्कूल लेवल पर एक क्रिकेट मैच में सारे रिकॉर्ड तोड़ते हुए नॉट आउट 1,009 रन बनाने वाले प्रणव धनावड़े एक बार फिर चर्चित का विषय बन गया है। इस बार किसी बड़ी पारी क्र लिए नहीं, बल्कि अपनी नाकामी और उससे भी ज्यादा उसके बाद दिखाई गई दिलदारी के कारण चर्चा में है। 

यह भी पढ़े: यमुना एक्सप्रेस-वे पर कोहरे के कारण भिड़े दर्जनों वाहन, देखें वीडियो

प्रणव और उनकी फैमिली ने लाखों रुपए की स्कॉलरशिप यह कहते हुए बंद करने की गुजारिश की है कि प्रणव अब उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं इसलिए वे यह पैसे नहीं ले सकते। उनके पिता पेशे से ऑटो ड्राइवर थे और इस पारी के बाद उन्हें आर्थिक मदद देने के लिए मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने स्कॉलरशिप दी थी। 

 

इसके तहत उन्होंने अगले पांच साल तक हर महीने 10 हजार रुपए मिलना तय हुआ था। पिता प्रशांत का कहना है कि हम एमसीए के शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने हमें मदद दी। चूंकि, डेढ़ साल में प्रणव उम्मीदों के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर सके इसलिए हम ये पैसे अब नहीं ले सकते। अगर आगे प्रणव अच्छा प्रदर्शन करेगा तो एमसीए उसे फिर स्कॉलरशिप देने के बारे में सोच सकता है।

कहा जा रहा है कि एमसीए ने पहले ही 1,20,000 रुपए मंजूर कर दिए हैं, हालांकि, प्रशांत का कहना है कि हमें मिला नहीं है। स्कॉलरशिप लौटाने का फैसला प्रणव और कोच ने मिलकर लिया है, कोच का कहना है कि प्रणव उस धमाकेदार पारी के बाद अच्छे से खेल नहीं पा रहा है, वह दबाव महसूस कर रहा है। 

कई लोगों को मानना है की लोग कमेंट करते हैं कि उस पारी के बाद प्रणव ने भारी भरकम पैसा बना लिया था। लोग कहने लगे थे कि प्रणव को बांद्रा में घर मिलने वाला है, ये सब फर्जी बाते हैं। इसलिए हम पैसे लेकर बाद में ये नहीं सुनना चाहते कि पैसे भी लिया और कुछ किया नहीं, धनावड़े के नाम पर अब भी किसी तरह की क्रिकेट में एक पारी में सर्वाधिक स्कोर का रिकॉर्ड दर्ज हो गया। 

यह भी पढ़े: लड़के ने की भरे बाजार में लड़की की पिटाई, तमाशा देखते रहे लोग देखिए वीडियो

उन्होंने ब्रिटेन के एईजे कोलिन्स का क्लार्क हाउस के खिलाफ नार्थ टाउन में 1899 में बनाए गए नाबाद 628 रन के रिकॉर्ड को तोड़ा। दसवीं में पढ़ने वाला प्रणव एमसीए के अनुभवी कोच मोबिन शेख का शिष्य है और वह ऑटोरिक्शा चालक का एकमात्र बेटा है। ठाणे के निकट कल्याण के वायलेंगर मैदान पर खेले गये मैच में उनकी टीम ने यह विशाल स्कोर अपने प्रतिद्वंद्वी के 17 ओवर में 31 रन पर आउट होने के जवाब में बनाया।

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

More From sports

loading...
Trending Now
Recommended