संजीवनी टुडे

सीएम बिप्लब कुमार देब के समक्ष 88 उग्रवादियों ने हथियार के साथ किया सरेंडर

संजीवनी टुडे 14-08-2019 09:25:06

केंद्र व त्रिपुरा सरकार के साथ त्रिपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर के तीन दिन बाद मंगलवार को नेशनल लिब्रेशन फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (NLFT) के 88 सदस्यों ने मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब के समक्ष समर्पण कर दिया। उपमुख्यमंत्री जिष्णु देव वर्मा भी इस दौरान मौजूद थे।


नई दिल्ली। केंद्र व त्रिपुरा सरकार के साथ त्रिपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर के तीन दिन बाद मंगलवार को नेशनल लिब्रेशन फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (NLFT) के 88 सदस्यों ने मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब के समक्ष समर्पण कर दिया। उपमुख्यमंत्री जिष्णु देव वर्मा भी इस दौरान मौजूद थे।

यह खबर भी पढ़े: प्रियंका गांधी के PS ने मीडियाकर्मी को सरेआम 'ठोंक देने' की दी धमकी, वीडियो वायरल

एनएलएफटी के एसडी गुट के सदस्यों के साथ परिवार के 125 सदस्यों ने हथियार व गोला-बारूद के साथ धलाई जिले के अम्बासा में समर्पण किया। धलाई जिला, अगरतला से 100 किमी उत्तर में है। एसडी गुट ने सबीर कुमार देबबर्मा की अगुवाई में समर्पण किया।

समर्पण किए गए हथियारों में 3 एके-47 राइफल, छह सेल्फ लोडिंग राइफल, चार चाइनीज राइफल, चार कार्बाइन, चार पिस्तौल, 1,876 युद्ध सामग्री व दूसरे उपकरण शामिल हैं। सरकार ने एनएलएफटी-एसडी नेताओं को आश्वासन दिया था कि आत्मसमर्पण करने वाले उसके सदस्यों को केंद्रीय गृह मंत्रालय की 'आत्मसमर्पण सह पुनर्वास योजना-2018' के तहत लाभ प्रदान किए जाएंगे। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

आपको बता दें कि एक त्रिपक्षीय ज्ञापन समझौते (MOS) पर 10 अगस्त को केंद्र, त्रिपुरा सरकार व NLFT के बीच में हस्ताक्षर किए गए, जिसके बाद यह समर्पण हुआ। MOS पर हस्ताक्षर के बाद NLFT के प्रतिनिधियों ने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended