संजीवनी टुडे

2440 नेपाली नागरिक अपने देश पहुंचे, 182 भारतीयों की हुई वतन वापसी

संजीवनी टुडे 29-05-2020 08:31:57

2440 नेपाली नागरिक अपने देश पहुंचे, 182 भारतीयों की हुई वतन वापसी


बनबसा। भारत-नेपाल के बीच लाॅकडाउन में फंसे हुए लोगों की चैथे दिन भी आवाजाही जारी रही। इससे भारत में फंसे नेपाली नागरिकों सहित नेपाल में फंसे भारतीयों ने राहत की सांस ली। प्रशासन ने जांच के बाद फंसे लोगों को वतन भेज दिया गया। गुरुवार सुबह से ही जगबुड़ा पुल के पास नेपाली नागरिकों की भारी भीड़ जुटी रही। इंडो-नेपाल सरकार से तय किए गए समयानुसार सीमा खोल दी गई। सुबह छह बजे से दस बजे तक 2440 नेपाली नागरिकों को स्वदेश भेज दिया गया। इसके अलावा नेपाल में फंसे 182 भारतीयों की भी वतन वापसी हुई।

थानाध्यक्ष जसवीर सिंह चैहान ने बताया कि अब तक सात हजार से अधिक लोगों को नेपाल भेजा जा चुका है। बताया अभी भी विभिन्न प्रांतों से नेपाली नागरिकों का बनबसा पहुंचना जारी है। इससे संभावना जताई जा रही है कि आगे भी आवाजाही के लिए सीमा खुली रहेगी। सीमा खुलने से सैकड़ों मजदूरों को राहत मिली है। नेपाल से आए 400 लोगों को यूपी रवाना किया टनकपुर। नेपाल से आए यूपी के 400 श्रमिकों और पूर्णागिरि मेले में दुकान लगाने आए 50 अन्य लोगों को घरों को रवाना किया गया। इन सभी लोगों को 12 बसों के माध्यम से प्रशासन ने रवाना किया। बसें इन श्रमिकों को बहेड़ी तक छोड़ेंगी। 

लॉकडाउन के चलते कई लोग घरों से दूर फंसे हुए हैं। गुरुवार को टनकपुर-बनबसा में फंसे यूपी के 450 श्रमिकों को प्रशासन ने घरों को रवाना किया। इनमें पूर्णागिरि मेले में दुकानें लगाने आए लोग भी शामिल हैं। प्रशासन लगातार फंसे श्रमिकों को घर भेज रहा है। ये श्रमिक यूपी के पीलीभीत, बदायूं, अलीगढ़, बरेली आदि जिलों के रहने वाले हैं। 

लॉकडाउन के चलते ये सभी लोग नेपाल में ही फंस गए थे। जिसके बाद दोनों देशों के प्रशासन ने बात कर इन्हें बसों से घर की ओर रवाना कर दिया है। एसडीएम टनकपुर दयानंद सरस्वती ने बताया कि यूपी के 450 श्रमिकों उनके गंतव्यों की ओर भेज दिया गया है। 12 बसों से इन लोगों को बहेड़ी तक छोड़ा जाएगा। प्रशासन फंसे हुए लोगों को घर पहुंचाने की हरसंभव कोशिश कर रहा है। 

यह खबर भी पढ़े: लॉकडाउन-05 के मुद्दे पर अमित शाह ने की मुख्यमंत्रियों से बात

यह खबर भी पढ़े: भारत ने राम मंदिर निर्माण पर पाकिस्तान के बयान को नकारा

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended