संजीवनी टुडे

हैकर्स इन ऐप्स की मदद से WhatsApp पर पर्सनल डाटा की करते हैं चोरी

संजीवनी टुडे 13-01-2019 11:23:42


टेक्नोलॉजी डेस्क। आज के समय में सोशल मीडिया का इस्तेमाल दुनिया की आधी से ज्यादा आबादी करती है, और ज्यादातर यूजर्स इसे एंड्रॉइड स्मार्टफोन पर इस्तेमाल करते हैं। लेकिन अब सोशल मीडिया ऐप्स का यूज़ करना सुरक्षित नहीं रहा है। हाल ही में एक सर्च में खुलासा हुआ है कि दुनियाभर के 180 से अधिक देशों के सोशल मीडिया यूजर्स के डेटा की चोरी हो रही थी। जिसमें स्पाइवेयर द्वारा की जाने वाली इस हैकिंग से यूजर्स के Whatsapp के डेटा को हैक किया जा रहा था।

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314188188

यूजर्स के डाटा लीक या चोरी अनआइडेंटिफाइड ऐप्स को डाउनलोड कर से होती है। जानकारी के अनुसार यह स्पाईवेयर भारत में भी व्हॉट्सऐप और फेसबुक के यूजर्स के डाटा को चोरी करने का काम कर रहा है।

FBHBHBHBH   GVBH

हम यहां आपको बताते हैं कि कैसे आप अपने WhatsApp के डाटा को अपने स्मार्टफोन से चोरी होने से बचा सकते हैं। साथ ही यह भी बताएंगे हैं कि आपके WhatsApp डाटा की ये ऐप्स किस तरह से हैकिंग करते हैं।

FBHBHBHBH   GVBH

हाल ही में एक सिक्योरिटी रिसर्च टीम ने 'ANDROIDOS_MOBSTSPY' नाम के मेलवेयर की खोज की जो आपके वॉट्सऐप समेत कई सोशल मीडिया ऐप्स और स्मार्टफोन्स को प्रभावित कर रहा है। इस मेलवेयर को गूगल प्ले स्टोर से 1 लाख से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका है। यह मेलवेयर गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद Flappy Birr Dog, FlashLight, Win7imulator, Win7Launcher, HZPermis Pro Arabe और Flappy Bird ऐप्स में पाए गए हैं।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इसकी जानकारी जापानी सिक्योरिटी रिसर्च कंपनी Trend Micro ने दी है। कंपनी के अनुसार वॉट्सऐप पर भेजे जा रहे वीडियो फाइल्स, फोटो और ऑडियो को यह मेलवेयर प्रभावित करता है। अगर आपने भी इन ऐप्स को अपने स्मार्टफोन में डाउनलोड किए हैं तो इसे अपने स्मार्टफोन के सेटिंग्स ऑप्शन में जाकर रीमूव कर सकते हैं।

More From mobile

Loading...
Trending Now
Recommended