संजीवनी टुडे

Android फोन निर्माताओं को अब गूगल इस्तेमाल करने पर देने होंगे 3,000 रुपये, 1 फरवरी 2019 से होंगे लागू

संजीवनी टुडे 20-10-2018 18:32:06


गैजेट डेस्क। एंड्रॉइड निर्माताओं को अब गूगल को प्रति डिवाइस 40 डॉलर (3,000 रुपये) का शुल्क भुगतान करना पड़ेगा, जिसके बाद ही एंड्रॉइड निर्माता गूगल प्ले स्टोर और अन्य मोबाइल ऐप का इस्तेमाल कर सकते है। सूत्रों के मुताबिक, ऐप का गूगल मोबाइल सर्विसिस सुइट इस्तेमाल करने के लिए प्रति डिवाइस 40 डॉलर (3,000 रुपये) तक शुल्क को नियत किया गया है।

शुक्रवार को The Verge की एक रिपोर्ट में कहा गया कि, हर डिवाइस में ऐप्स के गूगल मोबाइल सर्विसेज को इंस्टॉल करने के लिए 40 डॉलर (3,000 रुपये) तक चुकाने पड़ सकते हैं। रिपोर्ट में कहा गया, 'नई फीस देश और डिवाइस टाइप के हिासब से अलग-अलग हो सकती है और यह फीस 1 फरवरी 2019 को या इसके बाद ऐक्टिवेट हुए डिवाएसेज़ पर ही अप्लाई होगी।' 

बयान, "इस मामले की जानकारी रखनेवाले एक सूत्र ने बताया कि गूगल इसके अलावा कंपनियों से उनके डिवाइसों में क्रोम और गूगल सर्च इंस्टाल करने का अलग से लाइसेंसिंग शुल्क वसूलेगी।" 

2.40 लाख में प्लॉट जयपुर: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में Call:09314166166

MUST WATCH & SUBSCRIBE

ऐंड्रॉयड में इन नए बदलावों को 29 अक्टूबर से लागू किया जाएगा। स्मार्टफोन निर्माताओं को यूरोप में कुछ चुनिंदा ऐप्स के लिए पैसे चुकाने होंगे। जब ऐंड्रॉयड फ्री और ओपन सोर्स रहेगा, तो गूगल अपने सर्च ऐप क्रोम के लिए कंपनियों को अलग लाइसेंस जारी करेगा।

sanjeevni app

More From mobile

Loading...
Trending Now
Recommended