संजीवनी टुडे

सुषमा स्वराज की पुण्यतिथि पर भावुक हुए शिवराज, कहा- दीदी ने कभी किसी को निराश नहीं किया

संजीवनी टुडे 06-08-2020 13:14:42

दिग्गज भाजपा नेत्री और पूर्व विदेश मंत्री स्वर्गीय सुषमा स्वराज की आज गुरुवार को प्रथम पुण्यतिथि है।


भोपाल। दिग्गज भाजपा नेत्री और पूर्व विदेश मंत्री स्वर्गीय सुषमा स्वराज की आज गुरुवार को प्रथम पुण्यतिथि है। आज से ठीक एक साल पहले 6 अगस्त 2019 को उनका देहांत हो गया था। राजनीति में सुषमा स्वराज एक ऐसा नाम था, जिसे कभी नहीं भुलाया जा सकता। हाजिर जवाब, अपनी रणनीति और लोगों की मदद के लिए हमेशा खड़ी रहने वालीं सुषमा स्वराज की पुण्यतिथि के मौके पर पूरा देश उन्हें याद कर रहा है। उनके उन साहसी कार्यों को याद कर रहा है, जो उन्होंने विदेश मंत्री के तौर पर लोगों की मदद करके किए। मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी सुषमा स्वराज को पुण्यतिथि पर याद कर भावुक हो गए। 

अपने मृदुभाषी स्वभाव के लिए प्रसिद्ध सुषमा स्वराज को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी बहन की तरह सम्मान देते थे। विदिशा संसदीय सीट से दो बार सांसद रही सुषमा स्वराज का मध्यप्रदेश से खास रिश्ता भी रहा। ऐसे में सुषमा स्वराज की पुण्यतिथि पर उन्हें याद करते हुए सीएम शिवराज भावुक हो गए। उन्होंने सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि देते हुए कहा ‘आज बहन सुषमा स्वराज जी की पुण्यतिथि है। हमें छोडक़र गये उन्हें एक साल बीत गया हैं, लेकिन लगता है कि जैसे कल की ही बात है। ऐसा लग रहा है कि वे अचानक मेरे सामने आयेंगी और मुझे स्नेह से डांटेंगी कि इतना काम मत करो। तबीयत खराब हो जायेगी, जैसा वे मुझे डांटते हुए अक्सर कहा करती थीं।

एक अन्य ट्वीट कर विदेश मंत्री रहते हुए सुषमा स्वराज के अभूतपूर्व कार्यों को याद करते हुए सीएम शिवराज ने कहा ‘विदेश मंत्री रहते हुए दीदी ने यमन में फंसे भारतीयों के साथ विदेशी नागरिकों को भी उनके घर पहुंचाने का मानवीय कार्य किया। किसी ने ट्विटर पर भी मदद मांगी तो, दीदी ने उन्हें निराश नहीं होने दिया। आउटस्टैंडिंग पार्लियामेंटेरियन अवॉर्ड उनके ऐसे ही अनूठे कार्यों का सम्मान है।

उन्होंने कहा कि सात बार की सांसद और दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री रहीं दीदी सुषमा जी जब भी बोलती थीं, लगता था कि माता सरस्वती उनकी जिह्वा पर विराजमान हैं। आज भी उनके बोले शब्द कानों में गूंजते हैं। मैं, विदिशा, मध्यप्रदेश और यह देश उन्हें अनंत काल तक न भुला सकेगा। सादर नमन, श्रद्धांजलि!

यह खबर भी पढ़े: Sushant Singh Rajput case: सुप्रीम कोर्ट ने 3 दिन में सभी पार्टियों से मांगा जवाब, महाराष्ट्र सरकार को लगाई फटकार

यह खबर भी पढ़े: Rajasthan Politics Update/कांग्रेस संगठन के लिए उलझन का सबब बनता जा रहा है पायलट खेमे का मौन, जानिए वजह?

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From madhya-pradesh

Trending Now
Recommended