संजीवनी टुडे

भोपाल : गांधी मेडिकल कालेज में पृथक से शुरू होंगे यूरो सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, गेस्ट्रो और न्यूरो विभाग

संजीवनी टुडे 21-10-2020 08:39:41

गांधी मेडिकल कालेज में पृथक से शुरू होंगे यूरो सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, गेस्ट्रो और न्यूरो विभाग


भोपाल। राजधानी भोपाल गांधी मेडिकल कालेज में यूरोलाजी यानि यूरो सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, गेस्ट्रो और न्यूरो विभाग पृथक से प्रारंभ किए जायेंगे। ये नए विभाग फिलहाल जनरल सर्जरी और मेडीसिन विभाग के अधीन रहेंगे। यह निर्णय मंगलवार को संभागायुक्त कवीन्द्र कियावत की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई गांधी चिकित्सा स्वशासी कार्यकारिणी की 57वीं बैठक में लिए गए। बैठक में कलेक्टर अविनाश लवानिया, डीन डॉ. अरूणा कुमार, अधीक्षक हमीदिया डा. एके चौरसिया सहित कार्यकारिणी के सदस्य उपस्थित थे। 

कार्यकारिणी ने वर्ष 2020-21 के वार्षिक आय-व्यय को भी अनुमोदित किया। बैठक में मेडिकल कालेज के डीन और हमीदिया के अधीक्षक के कार्यों में सहयोग के लिए वाइस डीन और अधीक्षक बनाने पर विचार-विमर्श हुआ। जनरल सर्जरी के अधीन यूरो सर्जरी और न्यूरो सर्जरी तथा मेडीसिन विभाग के अधीन गेस्ट्रो एवं न्यूरो विभाग को तत्काल प्रारंभ करने के निर्णय के साथ ही नए विभाग के लिए शासन को प्रस्ताव भेजने का निर्णय भी लिया गया है। ये प्रस्ताव 10 तारीख तक भेजने के लिए पृथक-पृथक समितियां बनाई गई। 

बैठक में सीनियर रेजीडेंट सेवा नियम 2020 अनुमोदित किए गए। इस दौरान पैथालाजी विभाग की आवश्यकताओं पर गंभीर चर्चा कर तय किया गया है कि एक समिति अध्ययन कर तय करेगी कि किसी भी स्थिति में कोई भी पैथालाजी जांच बाहर नहीं हो। बैठक में ब्लड बैंक से ब्लड सहित प्लाज्मा डोनेट करने वालों की सुविधा और दर को भी अनुमोदित किया गया। संभागायुक्त कियावत ने निर्देश दिए हैं कि एक सप्ताह में कालेज और हमीदिया में उपयोग नहीं हो रही सभी मशीनों आदि की सूची तैयार कर इन मशीनों को प्रारंभ किया जाएगा। 
    
कार्यकारिणी द्वारा 1594 लाख 54 हजार आय और 1818 लाख 58 हजार व्यय की वार्षिक कार्य योजना को भी मंजूरी दी गई। कार्यकारिणी में कोविड-19 के लिए होने वाली व्यय राशि के लिए राज्य शासन को प्रस्ताव भेजने का निर्णय गया। बैठक में पूर्व की कुछेक संविदा सेवाओं को नियमित रखे जाने, मरम्मत और निर्माण कार्यों को मंजूरी दी गई। इस दौरान आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत विभिन्न पैकेज के तहत प्राप्त होने वाली राशि के उपयोग संबंधी मार्गदर्शिका को अंगीकार किया गया। संभागायुक्त ने छात्रों की सभी गतिविधियों का ऑनलाईन डाटाबेस तैयार करने के लिए एक माह मे ब्लू प्रिंट तैयार करने के निर्देश दिए हैं। बैठक में गत बैठक के पालन प्रतिवेदन पर चर्चा हुई तथा उसे पारित किया गया। संभागायुक्त कियावत ने निर्देश दिए हैं कि अब से कार्यकारिणी की बैठक प्रत्येक दो माह में आयोजित की जाएगी।

यह खबर भी पढ़े: ओपिनियन पोलः बिहार में एनडीए को स्पष्ट बहुमत

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From madhya-pradesh

Trending Now
Recommended