संजीवनी टुडे

रोजगार सेतु पोर्टल से कौशल अनुसार 38,906 श्रमिकों को मिला रोजगार

संजीवनी टुडे 09-08-2020 22:03:31

कोरोना संक्रमण काल में प्रदेश वापस लौटे प्रवासी मजदूरों को स्थानीय स्तर पर उनकी कुशलता एवं दक्षता के अनुसार रोजगार उपलब्ध


भोपाल। कोरोना संक्रमण काल में प्रदेश वापस लौटे प्रवासी मजदूरों को स्थानीय स्तर पर उनकी कुशलता एवं दक्षता के अनुसार रोजगार उपलब्ध करवाने के लिये रोजगार सेतु पोर्टल प्रारंभ किया गया। पोर्टल पर सभी प्रवासी मजदूरों का पंजीयन कर ऐसे नियोक्ताओं का भी पंजीयन किया गया जिन्हें काम के लिये मजदूरों की तलाश थी। मध्यप्रदेश में कारगर हुई रोजगार सेतु पोर्टल योजना में 7 लाख 30 हजार 311 प्रवासी श्रमिकों और 31 हजार 733 नियोक्ताओं का पंजीयन हो चुका है।

रोजगार सेतु के माध्यम से 38 हजार 906 प्रवासी मजदूरों को उनकी कुशलता और दक्षतानुसार विभिन्न प्रायवेट नियोक्ताओं की संस्थाओं में रोजगार मिला है। मनरेगा के कार्यों में एक लाख 94 हजार 75 प्रवासी श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध करवाया जा रहा है। तीन लाख 58 हजार 956 ऐसे प्रवासी मजदूरों के मनरेगा अन्तर्गत जॉब कार्ड भी बनाये गये, जिनके अभी तक जॉब कार्ड नहीं थे। इनमें ऐसे श्रमिक भी शामिल हैं, जो मध्यप्रदेश के न होकर अन्य राज्यों के हैं।

गरीबों के लिये हर स्तर पर सहायता उपलब्ध करवाने वाली संबल योजना के पोर्टल पर तीन लाख 24 हजार 715 व्यक्तियों का पंजीयन, बीओसीडब्ल्यू पोर्टल पर 16 हजार 496 का पंजीयन हो चुका है। श्रमिकों की स्किल मैपिंग में 7 लाख 20 हजार 997 श्रमिकों की उनके कौशल अनुसार मैपिंग का कार्य किया गया है।

आत्मनिर्भर भारत एवं राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा कानून के अंतर्गत 13 लाख 10 हजार 186 व्यक्तियों को खाद्यान्न वितरण किया गया। प्रवासी श्रमिकों के शाला से बाहर 75 हजार 385 बच्चों को शालाओं में प्रवेश की कार्यवाही की गई है।

यह खबर भी पढ़े: यासिर शाह ने हासिल की ऐतिहासिक उपलब्धि, शुरुआती 40 टेस्ट मैचों में सर्वाधिक विकेट लेने वाले बने दूसरे गेंदबाज

यह खबर भी पढ़े: VIDEO : निशुल्क पौधा वितरण कर पर्यावरण संरक्षण का लिया संकल्प...

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From madhya-pradesh

Trending Now
Recommended