संजीवनी टुडे

प्रियंका चतुर्वेदी के आरोपों के बाद बचाव में उतरे सिंधिया, कहा-लिखित माफी मांगी गई थी

संजीवनी टुडे 19-04-2019 21:52:47


शिवपुरी। कांग्रेस पार्टी की नाराज प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी द्वारा पार्टी से इस्तीफा देने के बाद शिवसेना ज्वाईन करने पर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शुक्रवार को सफाई दी। इस सफाई में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रियंका के उन आरोपों का जवाब दिया, जिसमें प्रियंका ने कई गंभीर आरोप लगाए थे। शिवपुरी में शुक्रवार को पत्रकारों से चर्चा में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रियंका चतुर्वेदी के आरोप पर कांग्रेस का बचाव करते हुए कहा कि जिन कांग्रेस नेताओं को पार्टी से हटाया गया था, उन्होंने लिखित माफी मांगी, माफी मांगने के बाद पार्टी में शामिल किया गया। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

ु

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि पहले तो प्रियंका चतुर्वेदी जी को शुभकामनाएं। उन्होंने कांग्रेस के साथ मिल कर बहुत लड़ाई लड़ी हैं। बहुत ही उत्तम श्रेणी की प्रवक्ता रही हैं। उनके लिए मेरी बहुत - बहुत शुभकामनाएं .. जहां तक यह मुद्दा है तो यह घटना मेरे कार्यकाल में नहीं घटी थी। यह घटना घटी थी पिछले वर्ष अगस्त में और मुझे जिम्मादारी मिली है जनवरी के अंत में.। वर्तमान में वहां के जो उम्मीदवार हैं जब उन्होंने कहा कि इन लोगों की जरूरत है .. तो मैंने कहा था पहले जाकर माफी मांगे, लिखित रूप में उन्होंने माफी मांगी है। माफी मांगने के बाद ही कांग्रेस नेताओं को पार्टी में शामिल किया गया है। 

सिंधिया ने कहा कि नेताओं ने माफी मांगा है एसएमएस के द्वारा और माफी मांगने के बाद अगर किसी के द्वारा गलती हुई हो ..अगर वह अपने आप को गुनहगार समझता है और गुनहगार समझते हुए हाथ जोड़ कर माफी मांगता है। उसके आधार पर जब माफी मांगी गई। जब उम्मीदवार को उनकी जरूरत थी.. उसके आधार पर मैंने यह निर्णय लिया कि जब माफी उन्होंने मांग ली है। जो बीत गई सो बीत गई आगे का हमें देखना होगा। 

बता दें कि प्रियंका ने बुधवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस के लिए मेहनत करने वाले नेताओं की जगह गुंडों को तरजीह दी जा रही है। जो महिलाओं के साथ बदसलूकी करते हैं। प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट कर लिखा कि जो लोग मेहनत कर अपनी जगह बना रहे हैं, उनके बदले ऐसे लोगों को तवज्जों मिल रही है। पार्टी के लिए मैंने गालियां और पत्थर खाए हैं, लेकिन उसके बावजूद पार्टी में रहने वाले नेताओं ने ही मुझे धमकियां दीं । 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इस घटनाक्रम के बाद प्रियंका चतुर्वेदी ने एक ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए इस मैसेज को लिखा, इसके साथ एक चिट्ठी भी जुड़ी हुई है जारी चिट्ठी के अनुसार, उत्तर प्रदेश के मथुरा में जब प्रियंका चतुर्वेदी पार्टी की तरफ से राफेल विमान सौदे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आई थीं, तब स्थानीय कार्यकर्ताओं ने उनके साथ बदसलूकी की। इसके बाद सभी पर अनुशासनात्मक कार्रवाई हुई थी। बाद में प्रियंका चतुर्वेदी ने पार्टी से इस्तीफा देने के बाद शिवसेना में शामिल हो गई हैं। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में प्रियंका चतुर्वेदी ने पार्टी ज्वाइन की। इसके बाद प्रियंका ने कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि वहां कोई मेरी सुनने वाला नहीं था। 

More From loksabhaelection

Trending Now
Recommended