संजीवनी टुडे

लोकसभा चुनाव 2019: नई दिल्ली सीट पर मीनाक्षी और माकन के बीच होगा दिलचस्प मुकाबला

संजीवनी टुडे 23-04-2019 20:16:20


नई दिल्ली। नई दिल्ली लोकसभा क्षेत्र देश के सबसे प्रतिष्ठित निर्वाचन क्षेत्रों में से एक हैं। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में यहां की तीनों प्रमुख पार्टियों ने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मीनाक्षी लेखी को पुन: इस सीट से चुनावी मैदान में उतारा है। जबकि कांग्रेस की ओर से नई दिल्ली सीट से दो बार सांसद रह चुके अजय माकन और आम आदमी पार्टी(आप) से बृजेश गोयल मैदान में है।

इस सीट से अजय माकन वर्ष 2004 और 2009 में सांसद चुने गए थे। वर्ष 2014 में हुए चुनाव में मीनाक्षी लेखी ने इस सीट से भाजपा के टिकट पर जीत हासिल की थी। लेखी ने यहां से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार रहे आशीष खेतान को हराया था। अजय माकन इस चुनाव में तीसरे स्थान पर थे।

लेखी को वर्ष 2014 के चुनाव में 4,53,350 (46.75 फीसदी) वोट मिले थे। दूसरे नंबर पर रहते हुए 'आप' के उम्मीदवार आशीष खेतान को 2,90,642 (29.97 फीसदी) वोट मिले थे। जबकि कांग्रेस उम्मीदवार को इस चुनाव में करारा झटका लगा था। माकन को इस चुनाव में 1,82,893(18.86 फीसदी) वोट मिले थे। मीनाक्षी ने वर्ष 2014 का चुनाव लगभग 1,62,704 वोटों से जीता था।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

इस बार जीत दर्ज करने के लिए सभी पार्टियां एड़ी-चोटी का जोर लगाएंगी। अपनी सीट को बचाने की जुगत में भाजपा कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहेगी। पिछले चुनाव में आम आदमी पार्टी इस सीट पर दूसरे स्थान पर रही थी। ऐसे में वो भी जीत के लिए हरसंभव प्रयास करेगी। वहीं अजय माकन के लिए यह चुनाव अग्नि परीक्षा जैसा है। लगातार दो बार इसी सीट से सांसद रहे माकन भी खोए जनाधार को पाने की हरसंभव कोशिश करेंगे। 

राजनीति के जानकारों का मानना है कि इस सीट पर माकन की तगड़ी पैठ है अपने पुराने संगठन को खड़ा करने के लिए माकन चुनाव के पहले से ही प्रयास कर रहे हैं। इतना ही नहीं, मीनाक्षी के लिए भी यह चुनाव 2014 की तरह आसान नहीं दिख रहा। ऐसे में इस सीट पर भी दिलचस्प मुकाबला देखने को मिलेगा।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

नई दिल्ली लोकसभा सीट से देश के कई हाई प्रोफाइल लोगों ने चुनाव लड़ा है। पहली बार 1952 में इस सीट से देश की क्रांतिकारी महिला नेता रहीं सुचेता कृपलानी ने चुनाव लड़ा था और दो बार जीत दर्ज की थी। इस सीट पर 10 बार भाजपा का बोलबाला रहा है। देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और भाजपा के पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, जगमोहन जैसे बड़े नेता सहित कांग्रेस के टिकट पर राजेश खन्ना भी नई दिल्ली सीट से सांसद रहे हैं।

More From loksabhaelection

Trending Now
Recommended