संजीवनी टुडे

बुंदेलखंड: सपा-बसपा को अंदरूनी कलह लोकसभा चुनाव में पड़ेगी भारी

संजीवनी टुडे 03-04-2019 14:14:43


हमीरपुर। सत्रहवीं लोकसभा चुनाव की सरगर्मी चरम पर है। इस बीच सपा-बसपा के कार्यकर्ताओं के बीच अंदरूनी कलह के कारण पार्टी पदाधिकारियों की परेशानी बढ़ गई है। इस बीच पदाधिकारी कार्यकर्ताओं को शांत कराने में जुटे हुए हैं। यदि चुनाव तक मामला शांत नहीं हुआ तो गठबंधन के उम्मीदवारों के लिए महंगा साबित होगा। हमीरपुर में अपनी सीट बचाने के लिये भाजपा प्रत्याशी पुष्पेन्द्र सिंह चंदेल सीधे तौर पर सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी से कड़ा मुकाबला कर रहे हैं। कमोवेश यह स्थिति जालौन-गरौठा संसदीय क्षेत्र में भी बन रही है। बांदा-चित्रकूट और झांसी-ललितपुर लोकसभा क्षेत्र में भाजपा के उम्मीदवार अभी घोषित न होने से चुनावी तस्वीर फिलहाल साफ नहीं है। 

बुंंदेलखंड की चार सीटों पर अबकी बार सीधा मुकाबला होने के ही आसार दिख रहे हैं। प्रदेश के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों अखिलेश यादव व मायावती ने गठबंधन कर कई नये चेहरों पर दांव लगाया है। हमीरपुर-महोबा-तिंदवारी लोकसभा क्षेत्र में जहां पहली बार दिलीप सिंह को चुनावी महासमर में उतारा गया है, वहीं बांदा-चित्रकूट संसदीय क्षेत्र में पूर्व सांसद श्यामा चरण गुप्ता पर दोनों पूर्व मुख्यमंत्रियों ने प्रतिष्ठा दांव पर लगाई है। टिकट के लिए दल बदलने में माहिर श्यामाचरण गुप्ता अभी इलाहाबाद से भाजपा के सांसद भी हैं। जालौन-गरौठा संसदीय क्षेत्र से अबकी बार अजय उर्फ पंकज अहिरवार को गठबंधन ने टिकट देकर चुनावी समर में उतारा है। झांसी-ललितपुर सीट के लिये श्याम सुुंदर सिंह पर गठबंधन दल के बड़े नेताओं ने दांव लगाया है। 

वैसे देखा जाये तो भाजपा ने अभी तक झांसी-ललितपुर व बांदा-चित्रकूट संसदीय क्षेत्र के लिये प्रत्याशी घोषित नहीं किये हैं। इन दोनों संसदीय क्षेत्रों में भाजपा प्रत्याशियों के चयन को लेकर किसी नतीजे पर नहीं पहुुंच पा रही है। पार्टी सूत्र बताते हैं कि झांसी-ललितपुर सीट के टिकट के लिये पूर्व सांसद गंगाचरण राजपूत दौड़ में सबसे आगे चल रहे हैं। बांदा-चित्रकूट लोकसभा क्षेत्र में मौजूदा भाजपा के सांसद भैरो प्रसाद मिश्रा का नाम आगे चल रहा है। बुुंदेलखंड क्षेत्र के चारों संसदीय क्षेत्रों में सपा-बसपा गठबंधन की गांठें कमजोर होते दिख रही हैं, क्योंकि कहीं-कहीं टिकट न मिलने के कारण पार्टी के कद्दावर लोग भितरघात को हवा दे रहे हैं।

वर्ष 1998 के आम चुनाव में बुुंदेलखंड की चारों सीटों पर भाजपा की जीत हुई थी। राममंदिर के मुद्दे पर चुनावी महासमर में भाजपा का मजबूत जनाधार भी खड़ा हुआ। हमीरपुर-महोबा संसदीय क्षेत्र में भाजपा को कुल मतों में 201810 मत मिले थे, जबकि सपा को 183673 और बसपा को 147448 मत मिले थे। बांदा-चित्रकूट सीट पर 184401 मत पाकर भाजपा ने कमल खिलाया था। बसपा 166553 मत पाकर दूसरे और सपा 142178 मत पाकर तीसरे स्थान पर रही। जालौन-गरौठा संसदीय क्षेत्र में भाजपा को 233737, बसपा को 188087 व सपा को 147461 मत मिले थे। झांसी-ललितपुर लोकसभा क्षेत्र में भाजपा को 273333 मत मिले थे। सपा को 222965 और बसपा को 178307 मत मिले थे

वर्ष 1999 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को सभी चार सीटों से हाथ धोना पड़ा था। हमीरपुर-महोबा संसदीय क्षेत्र में पहली बार बसपा ने जीत का परचम फहराया था। उसे 217742 मत मिले थे और 206131 मत पाकर सपा दूसरे स्थान पर रही। भाजपा के खाते में सिर्फ 166838 मत आये थे। बांदा-चित्रकूट सीट पर भी बसपा ने कब्जा किया था। बसपा को 209993 मत मिले थे, जबकि सपा को 181359 और भाजपा को 138883 मत मिले थे। जालौन-गरौठा संसदीय क्षेत्र में भी बसपा ने जीत का परचम फहराया था। बसपा को 197333 मत मिले थे, जबकि 184268 मत पाकर भाजपा दूसरे स्थान पर रही। सपा के खाते में 89363 मत आये थे। झांसी-ललितपुर सीट पर कांग्रेस ने बाजी मारी थी। कांग्रेस को 283387 मत मिले थे, वहीं भाजपा 200765 मत पाकर दूसरे स्थान पर रही। बसपा 101657 मत पाकर तीसरे स्थान पर रही। यहीं नहीं सपा 131773 मत पाकर चौथे स्थान चली गयी।

वर्ष 2004 के आम चुनाव में हमीरपुर-महोबा संसदीय क्षेत्र में सपा ने कब्जा किया था। सपा को 220917 मत मिले थे, वहीं बसपा को 183763 व भाजपा को 44418 मत मिले थे। बांदा-चित्रकूट सीट पर भी सपा ने कब्जा किया था। सपा के खाते में 185099 मत आये थे, जबकि बसपा को 128795 तथा भाजपा को 122405 मत मिले थे। जालौन-गरौठा सीट पर भाजपा ने कमल खिलाया था। भाजपा को 195208 मत मिले थे वहीं सपा को 168435 तथा बसपा को 157555 मत मिले थे। झांसी-ललितपुर सीट में भी सपा की साइकिल ने जीता का परचम फहराया था। सपा को 238781 मत प्राप्त हुये थे वहीं बसपा को 212483 व भाजपा को 206584 मत मिले थे। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

सोलहवीं लोकसभा चुनाव में मोदी की लहर में बुंंदेलखंड की चारों सीटों पर भाजपा का कमल खिला था। हमीरपुर-महोबा संसदीय सीट पर पुष्पेन्द्र सिंह चंदेल जहां सपा की साइकिल को पंचर कर कमल खिलाया था, वहीं बांदा-चित्रकूट सीट पर भैरो प्रसाद मिश्रा, जालौन-गरौठा संसदीय क्षेत्र में भानु प्रताप वर्मा व झांसी-ललितपुर सीट पर उमा भारती ने भारी मतों से कमल खिलाया था।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

यहां के राजनीति के जानकार बाबूराम प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि वर्तमान में जो माहौल चल रहा है, उसमें भाजपा प्रत्याशियों की जीत की संभावना बढ़ गयी है। जालौन-गरौठा सीट पर तो भाजपा के सांसद भानु प्रताप वर्मा सत्रहवीं लोकसभा के चुनाव में हैट्रिक लगाने के लिये पसीना बहा रहे है। हमीरपुर-महोबा संसदीय सीट पर सांसद पुष्पेन्द्र सिंह चंदेल अपनी सीट बचाने के लिये इन दिनों पूरे क्षेत्र में घूम रहे है। 

More From loksabhaelection

Loading...
Trending Now
Recommended