संजीवनी टुडे

बंगाल भाजपा का दावा : हिंदू मतदाताओं को धमकाया गया , चुनाव अधिकारी को हटाने की मांग

संजीवनी टुडे 23-04-2019 20:02:58


कोलकाता। भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई ने राज्य में मतदान के दौरान हिंदू मतदाताओं को डराने और धमकाने का आरोप सत्तारूढ़ तृणमूल और राज्य पुलिस पर लगाया है। मंगलवार को राज्य की पांच संसदीय सीटों पर हो रहे मतदान के बीच प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष जयप्रकाश मजूमदार और शिशिर बाजोरिया ने राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी आरिज आफताब से मिलकर इससे संबंधित शिकायती चिट्ठी दी है। इसमें राज्य के अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी संजय बसु पर पक्षपात का आरोप लगाते हुए उन्हें तत्काल उनके पद से हटाने की मांग की गई है।

इस चिट्ठी में भाजपा ने कहा कि जबकि तीसरे चरण के लिए सीएपीएफ (केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल) की बहुत बड़ी तैनाती थी और 92 प्रतिशत बूथों को कवर किया गया था, बावजूद इसके हिंसा और धमकी लगातार जारी है।भाजपा ने विशेष घटनाओं को सूचीबद्ध करते हुए मुर्शिदाबाद से इस तरह के एक मामले का हवाला देते हुए सामान्य पर्यवेक्षक और पुलिस पर्यवेक्षक को सूचित करने का जिक्र किया गया है। यह भी आरोप लगाया है कि बालूरघाट में मतदान केंद्रों के आसपास के क्षेत्र में स्थानीय भाजपा नेता मंटू रॉय को निर्दयतापूर्वक राइफल के बट से पीटा गया। इसके अलावा भाजपा ने दावा किया कि अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी संजय बसु ने चुनाव प्रक्रिया शुरू होने के दिन से लेकर आज तक चुनाव आयोग के आधिकारिक रुख से अलग बयान दिया है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

भाजपा ने अपनी चिट्ठी में कहा है कि एक तरफ चुनाव आयोग राज्य के अधिकतर मतदान केंद्रों पर केंद्रीय बलों की तैनाती की बात करता है तो दूसरी ओर संजय बसु अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय बलों की कमी की बात उजागर करते हैं ताकि मतदाता डर जाएं और उनके मन में अविश्वास पैदा हो। यह राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस को लाभ पहुंचाने के उद्देशय से किया जाता है। इसके अलावा भाजपा ने अपनी चिट्ठी में संजय बसु के उस बयान का भी जिक्र किया है जिसमें उन्होंने बाबुल सुप्रियो पर प्राथमिकी दर्ज कराने की बात कही थी और बाद में अपने बयान से यू टर्न ले लिया था। तीसरे चरण के मतदान से एक दिन पहले सोमवार को संजय बसु ने कहा था कि आसनसोल में एक जनसभा के दौरान बाबुल सुप्रियो उस गीत को बजा रहे थे जो चुनाव आयोग ने प्रतिबंधित कर रखा हैै। इसकी रिकॉर्डिंग कर रहे चुनाव अधिकारी से उन्होंने कैमरा भी छीन लिया था। चुनाव आयोग ने उनके खिलाफ दो प्राथमिकी दर्ज कराई है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इसके बाद जब देशभर में यह सुर्खियां बन गई कि चुनाव आयोग ने बाबुल सुप्रियो के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है तब राज्य के अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी ने मीडिया को बुलाया था। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा था कि इस तरह की कोई भी प्राथमिकी चुनाव आयोग की ओर से दर्ज नहीं कराई गई। इसका जिक्र करते हुए भाजपा ने लिखा है कि मीडिया के सामने यह बयान दिया और बाद में चुनाव आयोग की ओर से साफ किया गया कि ऐसा कुछ हुआ ही नहीं है। इस बीच देशभर में भाजपा उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो की छवि खराब हुई और उनके खिलाफ बंगाल सहित पूरे देश में मुद्दे बनाए गए। ऐसे में यह बहुत बड़ी वजह है कि राज्य के अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी संजय बसु को उनकी जिम्मेदारियों से निलंबित किया जाए।

More From loksabhaelection

Trending Now
Recommended