संजीवनी टुडे

दूसरे चरण की 95 लोकसभा सीटों पर 66 प्रतिशत मतदान

संजीवनी टुडे 18-04-2019 22:35:03


नई दिल्ली। आम चुनावों के दूसरे चरण में 11 राज्यों और एक केन्द्र शासित प्रदेश की 95 लोकसभा सीटों और ओडिशा की 35 सीटों में गुरुवार को 66 प्रतिशत मतदान हुआ है। आयोग के अनुसार कुछ स्थानों पर देर तक वोटिंग होने के चलते अंतिम आंकड़े बढ़ सकते हैं। दिल्ली में उप चुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा ने एक पत्रकार वार्ता में बताया कि आम चुनावों के दूसरे चरण में गुरुवार को 66 प्रतिशत मतदान हुआ है, पिछली बार 2014 में 69.62 प्रतिशत रहा था। कुछ स्थानों पर हिंसक घटनाओं को छोड़कर दूसरे चरण का मतदान लगभग शांतिपूर्ण रहा है। 

आयोग के अनुसार छत्तीसगढ़ की तीन सीटों पर 71(2014 में 66.04) प्रतिशत मतदान हुआ है। कर्नाटक की 14 सीटों पर 61.84 (2014 में 61.68) प्रतिशत, पुडुचेरी की एक लोकसभा सीट पर 78 (2014 में 82.1) प्रतिशत, तमिलनाडु की 38 सीटों पर 72(73.58) प्रतिशत, जम्मू-कश्मीर दो सीटों पर 43.4(2014 में 52.32) प्रतिशत, पश्चिम बंगाल की तीन सीटों पर 76.07 प्रतिशत, असम की पांच सीटों 73.32 प्रतिशत, मणिपुर एक सीट पर 74.3 (2014 में 75.16) प्रतिशत, बिहार की पांच सीट पर 62.52(2014 में 61.93 और प्रथम चरण में 53.47) प्रतिशत, महाराष्ट्र की 10 सीटों पर 62 (2014 में 62.64 और प्रथम चरण में 63.04) प्रतिशत, ओडिशा की पांच लोकसभा और 35 विधानसभा सीटों पर 64 (2014 में 73.75 और पहले चरण में 73.76 प्रतिशत), उत्तर प्रदेश की आठ सीटों पर 62.03 (2014 में 61.87 और प्रथम चरण में 63.88 प्रतिशत) मतदान हुआ है। 
आयोग के अनुसार जम्मू-कश्मीर की श्रीनगर लोकसभा सीट पर 13.43 प्रतिशत मतदान हुआ है। यहां 2014 में 25.43 प्रतिशत और पिछली बार हुए उपचुनाव में 7.12 प्रतिशत मतदान हुआ था। वहीं उधमपुर में 66.76 प्रतिशत (2014 में 71.48) प्रतिशत मतदान हुआ है। 

ु

उमेश सिन्हा ने बताया कि प्रथम चरण में 10 राज्यों में मतदान कार्यक्रम पूरा हुआ था। दूसरे चरण में 14 राज्यों में मतदान कार्यक्रम पूरा हुआ है। तीसरे चरण में 22 राज्यों मतदान कार्यक्रम पूरा हो जाएगा। अभी तक कुल 6 चरणों के लिए अधिसूचना जारी हो चुकी है और सातवें व अंतिम चरण के लिए 22 अप्रैल को अधिसूचना जारी होगी। दूसरे चरण में 15.8 करोड़ मतदाता थे। उप चुनाव आयुक्त ने बताया कि देश में अब कुल मतदाताओं की संख्या 90.94 करोड़ हो गई है। फरवरी के बाद से अब तक इसमें 1.16 करोड़ नए मतदाता जुड़े हैं। वहीं सेवा वोटरों की संख्या भी इस बार 18 लाख तक पहुंच गई है। 

ु

छिटपुट घटनाएं और ईवीएम खराब
दूसरे चरण के मतदान के दिन तृणमूल कांग्रेस शासित पश्चिम बंगाल में फिर हिंसक घटनाएं हुईं। रायगंज में तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने उत्पात मचाया। इस्लामपुर इलाके में भाकपा उम्मीदवार मोहम्मद सलीम के काफिले पर हमला किया गया। इससे पहले राज्य के चोपड़ा में तृणमूल और भाजपा कार्यकर्ताओं की भिड़ंत हुई। इस दौरान एक पोलिंग बूथ पर ईवीएम टूट गई। कुछ जगहों पर तृणमूल समर्थकों ने मतदाताओं को पीटा। महिला मतदाताओं के कपड़े फाड़ने की कोशिश की। सुरक्षाबलों को स्थिति संभालने के लिए आंसू गैस के गोले दागने पड़े। निर्वाचन आयोग ने प्रशासन से यहां की रिपोर्ट तलब की है।


दूसरे चरण में बिहार के बांका के शम्भूगंज में कुछ बूथों पर मतदान को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे कुछ उपद्रवियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने दस राउंड गोलियां चलाईं।मुख्य निर्वाचन अधिकारी एचआर श्रीनिवास ने बताया कि कुछ छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्वक सम्पन्न हो गया। वहीं पूर्णिया, किशनगंज, भागलपुर में कहीं-कहीं ईवीएम में गड़बड़ी की वजह से कुछ जगहों पर मतदान देर से शुरू हुआ। बांका, कटिहार और किशनगंज में कुछ बूथ पर स्थानीय समस्याओं को लेकर ग्रामीणों ने मतदान का बहिष्कार किया किन्तु अधिकारियों के समझाने के बाद लोगों ने मतदान में हिस्सा लिया। दूसरी तरफ, ओडिशा के गंजाम में वोट देने के लिए कतार में लगे 95 वर्षीय एक बुजुर्ग की मौत हो गई। तमिलनाडु में कुछ स्थानों पर ईवीएम में खराबी की वजह से मतदान देरी से शुरू हो सका। उत्तर प्रदेश में कुछ जगह फर्जी मतदान का आरोप भी लगाया गया है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 931416616


छत्तीसगढ़ के अंतागढ़ विधानसभा के पोलिंग बूथ क्रमांक-186 पर तैनात एक मतदानकर्मी की मौत हो गई। मतदानकर्मी सुकलराम कांगे भानुप्रतापपुर के झोली गांव का निवासी था। मौत का कारण हार्ट अटैक बताया गया है। 
दूसरे चरण में 1,18,352 पोलिंग स्टेशन में उपयोग में लाई गई 1000 ईवीएम, 769 कंट्रोल यूनिट और 2766 वीवीपैट मशीनें खराब हुई थी, जिन्हें बाद में बदला गया।

ु

आचार संहिता उल्लंघन के 379 मामले-
उपचुनाव आयुक्त के अनुसार अब तक आदर्श आचार संहिता(एमसीसी) के उल्लंघन से जुड़े 379 मामले सामने आए हैं। आयोग की सी-विजिल ऐप के माध्यम से आज तक एमसीसी उल्लंघन की 1,01,468 शिकायत आई हैं। हर दिन दो हजार शिकायतें मिल रही हैं। इनमें से 76 प्रतिशत शिकायतें सही पाई गई हैं, जिनपर आयोग ने त्वरित कार्रवाई की है। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

आयोग की सख्ती के चलते अबतक कुल 2632 करोड़ रुपयों की जब्ती हो चुकी है। इसमें 697 करोड़ नकद, 290 करोड़ की शराब, 1151 करोड़ के नशीले पदार्थ, 51.6 करोड़ के अन्य कीमती सामान जब्त किए गए हैं। 
दूसरे चरण में पेड न्यूज के 51 मामले दर्ज किए गए हैं। पहले चरण के 56 मामलों के साथ आंकड़ा 107 पर पहुंच गया है। आयोग ने इस चरण में सोशल मीडिया कंपनियों से शिकायत कर फेसबुक से 25, ट्वीटर से 38, यूट्यब से दो और वाट्सएप से दो पोस्ट हटाई हैं। 10 मार्च से 11 अप्रैल के बीचे में आयोग ने फेसबुक से 105, ट्वीटर से 11, और व्हाट्सएप से एक पोस्ट हटाई थी। वोटर टर्नआउट ऐप लॉन्च चुनाव आयोग ने गुरुवार को ‘वोटर टर्नआउट’ ऐप लॉन्च किया है। इस ऐप के माध्यम से लगातार चल रहे मतदान का प्रतिशत देखा जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From loksabhaelection

Trending Now
Recommended