संजीवनी टुडे

आपकी ये गलतियां सेहत पर भारी पड़ सकती, ऐसे करे बचाव

संजीवनी टुडे 07-02-2019 21:02:19


गलत तरीके से वजन घटाना

वजन कम करने के लिए अक्सर लोग भोजन करना ही छोड़ देते हैं, जोकि गलत है। भोजन ना करने से शरीर में कैलोरी व ऊर्जा की कमी हो जाती है। इससे मेटाबॉलिक रेट धीमा हो जाता है, जिससे वजन कम होने की बजाए बढ़ जाता है। साथ ही इससे कई बीमारियां भी आपको घेर लेती हैं।

पर्याप्त नींद ना लेना

पर्याप्त नींद ना लेने से ना सिर्फ मेटाबॉलिज्म धीमा होता है ब्लकि इससे चिड़चिड़ापन, हृदय रोग, उच्च रक्तचाप, वजन और मधुमेह जैसी समस्याएं भी बढ़ने लगती हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि आप दिनभर में से कम से 7-8 घंटे की पर्याप्त नींद लें, ताकि आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रहे।


 तनाव लेना

ज्यादा टेंशन, तनाव, स्ट्रेस लेने के कारण दिमाग पर बुरा असर पड़ता है, जिससे आप डिप्रैशन या माइग्रेन के शिकार हो सकते हैं। इतना ही नहीं, ज्यादा तनाव आपको चिड़चिड़ा और गुस्सैल बना देता है। इसके अलावा तनाव का मेटाबॉलिक रेट पर नकारात्मक असर पड़ता है, जिससे कैलोरी बर्न होने में समय लगता है।


मीठे का सेवन

अधिक मीठे का सेवन ना सिर्फ आपका वजन बढ़ता है बल्कि इससे दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। अगर आप भी स्वस्थ रहना चाहते हैं तो अपनी डाइट से मीठे को आउट करें।

ब्रेकफास्ट स्किप 

सुबह लेट उठना, ऑफिस जाने की जल्दी, भूख ना लगना या डाइटिंग के चक्कर में अक्सर लोग नाश्ता नहीं करते, जोकि सेहत के लिहाज से गलत है। ब्रेकफास्ट ना करने से वजन बढ़ना, हार्ट डिजीज, डायबिटीज और स्ट्रेस जैसी बीमारियां हो सकती है इसलिए सुबह उठने के 1 घंटे के अंदर ब्रेकफास्ट कर लें।

गलत तरीके से दवाइ लेना

पेट दर्द या सिरदर्द के लिए अक्सर महिलाएं ठंडे पानी के साथ पेनकिलर ले लेती हैं लेकिन गर्म पानी के साथ गोली खाने से वह जल्दी असर करती है। 70 प्रतिशत मामलों में एक गिलास गर्म पानी के साथ किसी भी पेनकिलर का सेवन ज्यादा फायदेमंद होता है।

 
टॉयलेट में मोबाइल लेकर जाना

मोबाइल का क्रेज आजकल इतना बढ़ गया है कि लोग बाथरूम में भी इसका पीछा नहीं छोड़ते। मगर आपको बता दें कि टॉयलेट सीट पर कई तरह के छोटे-छोटे बैक्टीरिया चिपके होते हैं, जो इन डिवाइस चिपक जाते हैं और इन्हें धोया या साफ भी नहीं किया जा सकता। ऐसे में ये बैक्टीरिया हाथों के जरिए शरीर में जाकर पेट दर्द, पेट में इंफैक्शन, फूड प्वाइजनिंग जैसी परेशानियों का कारण बनते हैं।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में Call On: 09314166166

फिजिकल एक्टिविटी कम करना
आजकल लोग टैक्नोलॉजी पर इतना निर्भर हैं कि वह हर काम बिना मेहनत के करना चाहता है। फिजिकल एक्टिविटी कम होने के कारण शरीर से पसीन कम निकलता है, जिससे बॉडी में हानिकारक पदार्थ इकट्ठे हो जाते हैं, जो आगे चलकर बीमारियों का कारण बनते हैं।


देर रात स्नैक्स खाना

देर रात स्नैक्स खाना हेल्थ के नजरिए से सही नहीं है। देर रात स्नैक्स लेने के बाद कोई शारीरिक एक्टिविटी नहीं हो पाती और आप सीधे सोने चले जाते हैं। इससे खाना हजम न होना, दांतों का खराब होना और फैट बढ़ना भी समस्या हो सकती है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE


नाखून चबाना

कई लोगों को नाखून चबाने की आदत होती है लेकिन इससे आप ना सिर्फ नाखूनों को खराब कर लेते हैं, बल्कि इससे सेहत को भी नुकसान होता है। नाखूनों को चबाने से जमा मैल पेट में चली जाती है, जिससे पेट दर्द, उल्टी और दस्त जैसी परेशानियां हो सकती हैं।

More From lifestyle

Loading...
Trending Now
Recommended