संजीवनी टुडे

विश्व तम्बाकू निषेध दिवस: जनजागरूकता कार्यक्रम में दी तम्बाकू जनित बीमारियों की जानकारी

संजीवनी टुडे 31-05-2019 17:37:44


डेस्क। विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के अवसर पर मध्यप्रदेश में राजधानी भोपाल समेत सभी जिला एवं तहसील मुख्यालयों पर शुक्रवार को विभिन्न जनजागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को तम्बाकू जनित बीमारियों की जानकारी दी गई। 

धार में इस अवसर पर कार्यशाला आयोजित की गई, जिसमें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एसके सरल ने प्रजेंटेशन के माध्यम से तम्बाकू सेवन से होने वाले बीमारियों व दुष्परिणामों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि तम्बाकू के सेवन से कैंसर, फेफड़ों संबंधी रोग, हृदय तथा रक्त संबंधी रोग, मस्तिष्क संबंधी रोग, स्त्रियों में बॉझपन, गर्भपात, समय से पहले बच्चे का जन्म, कम वजन के बच्चे का जन्म, मरे हुए शिशु का जन्म, शिशुओं जन्मजात विकृति, पुरूषो में होने वाले रोग जैसे नपुंसकता, शुक्राणुओं की कमी जैसी बीमारियां हो जाती हैं।

भारत सरकार ने तम्बाकू के बढ़ते उपयोग को रोकने क लिए 18 मई 2003 को तम्बाकू नियंत्रण अधिनियम 2003 सिगरेट और अन्य तम्बाकू उत्पाद (विज्ञापन का प्रतिषेध और व्यापार तथा वाणिज्य, उत्पादन, प्रदाय और वितरण का विनिमय) अधिनियम 2003 पारित किया। यह अधिनियम उन सभी उत्पादों पर लागू होता है, जिसमें किसी भी रूप में तम्बाकू है जैसे सिगरेट, सिगार, चेरूट, बीडी, गुटका तम्बाकू युक्त पान मसाला, खैनी, मावा, मिसरी, सुंधनी आदि शामिल हैं।

ेक्शन 4 के तहत सार्वजनिक स्थलो पर धुम्रपान निषेध है जैसे सभागृह, अस्पताल भवन, रेलवे स्टेशन व प्रतिक्षालय, मनोरंजन केंद्र, रेस्टोरेंट व शासकीय कार्यालयो, न्यायालय परिसर, शिक्षण संस्थानों, पुस्तकालय, लोक परिवहन, अन्य कार्य स्थल, कार्यालय व दुकानों आदि। उल्लंधन करने पर 200 रुपये तक का जुर्माना हो सकता है। 

सेक्शन 5 के तहत तम्बाकू उत्पादों के प्रचार-प्रसार हेतु विज्ञापन, उनके द्वारा प्रयोजन (स्पान्सरशिप) एवं प्रोत्साहन प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से निषेध है। सेक्शन 6 अ के तहत 18 वर्ष से कम आयु के अवस्यक व्यक्ति को/के द्वारा तम्बाकू उत्पाद बेचना प्रतिबंधित है। 

सेक्शन 6 ब के तहत शैक्षणिक संस्थाओं के 100 गज की परिधि में तम्बाकू उत्पादो का विक्रय प्रतिबंधित है। सेक्शन 7 के तहत तम्बाकू उत्पादो पर चित्रमय स्वास्थ्य चेतावनी प्रदर्शित होना अनिवार्य है। धारा 4 के अनुसार सभी सर्वाजनिक स्थानो पर न्यूनतम 60&30 सेमी के प्रारूप के सूचना पटल लगाना अनिवार्य है एवं साथ मे शिकायत अधिकारी का नाम भी उल्लेखित करना है। डॉ. सरल ने तम्बाकू सेवन न करने व जनचेतना लाने के लिए हस्ताक्षर अभियान की शुरुवात की। इस हस्ताक्षर अभियान में सभी ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर तम्बाकू का सेवन न करने की शपथ भी दिलाई गई।

वहीं, उमरिया में विश्व तम्बाकू दिवस के अवसर पर जन सामान्य को तम्बाकू के उपयोग से स्वास्थ्य में पढने वाले असर तथा होने वाली बीमारियों से अवगत कराने हेतु नगर पंचायत नौरोजाबाद में रैली एवं शपथ कार्यक्रम हुआ, जिसमें सैकड़ों लोगों ने भाग लेकर तम्बाकू, सिगरेट, बीडी, गुटखा के उपयोग नही करने की शपथ ली। 

इसी तरह विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के अवसर पर अर्चना डेंटल क्लीनिक के संचालक डॉ. ए. के. प्रजापति बीडीएस, एमपीसीडी, ग्वालियर मुख एवं दंत रोग विशेषज्ञ के द्वारा नगर के कृषि मंडी गेट के सामने नि:शुल्क दंत रोग शिविर का आयोजन सुबह 10 बजे से 3 बजे तक किया गया। जिसमें मुख केंसर लक्षणों की पूर्वावस्था में पहचान एवं उनका प्राथमिक उपचार, बीडी,गुटखा तम्बाकू, पान, सिगरेट आदि व्यसन को छुडाने के लिये विशेष उपचार एवं परामर्श,एक्सरे बिना दर्द के दांत निकालना, नसों के ईलाज फिक्स दांत बत्तीसी, मुह, जीभ, गले,डाढ में छाले का इनफेक्शन,मुह व जबडे का न खुलना मवाद का लगातार बहना मसूडों से खून आना जैसे विशेष परामर्श दिया गया।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

इसी तरह नगर स्थित सामुदायिक भवन उमरिया में भी विश्व तम्बाकू दिवस के अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर लोगो को नशे से दूर रहने का संकल्प दिलाया गया एवं गीत संगीत के माध्यम से भी लोगो को नशा नही करने की अपील की गई है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314188188

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From lifestyle

Trending Now
Recommended