संजीवनी टुडे

आज हरियाली तीज, घर पर ऐसे बनाए घेवर

संजीवनी टुडे 03-08-2019 12:12:10

घेवर बनाने की विधि


डेस्क। आमतौर पर घेवर राजस्थान में काफी प्रसिद्ध है। सावन में हरियाली तीज के त्यौहार पर हर घर में मिलने वाला घेवर सभी को पसंद होता है। जो अक्सर आप  बाजार  से लेट हैं इसके लिए अब आपको बाजार जाने की  जरूरत नहीं है। जी हां, इसे आप एक घंटे में घर में भी बना सकते हैं। आइये जानते हैं घेवर बनाने की रेसिपी 


आवश्यक सामग्री : 
मैदा – 250 ग्राम,  दूध_Milk – 50 ग्राम, घी- 50 ग्राम, पानी_Water – 800 ग्राम, दूध – आवश्यकतानुसार, बर्फ- कुछ टुकड़े,  घी/तेल– तलने के लिये।

चाशनी बनाने के लिये-
शक्कर – 400 ग्राम,
पानी– 200 ग्राम।

घेवर बनाने की विधि 

-सबसे पहले एक बर्तन में घी लेकर उसमें बर्फ के कुछ टुकड़ें डालें और उसे हाथ से फेंटें। जब घी क्रीम जैसी दिखने लगे, तो बर्फ निकाल दें और घी को एकबार पुन: फेंट लें। 

hj

जब घी क्रीम जैसा लगने लगे, उसमें आधा मैदा डालें और और फिर से फेंटें।

इसके बाद जब मैदा पूरी तरह से घुल जाए, तो बचा हुआ मैदा भी उसमें मिला लें और दूध और पानी मिला कर अच्छी तरह से फेंटें। 

ध्यान रहे मिश्रण में गुठली नहीं रहनी चाहिए और घोल एकसार होना चाहिए। साथ ही वह इतना पहता होना चाहिए कि चम्मच में लेकर गिराने से पतली धार बनकर गिरना चाहिए।

hj

घोल तैयार होने पर एक पतला लेकिन मोटे तले का गहरा भगोना लें और उसमें लगभग आधा भगोना घी भरकर गर्म करें।

अब इसमें घी गर्म होने पर बड़े चम्मच में मैदे का घोल लेकर भगोने में गोलाई से गिराएं। घोल इतना गिराएं कि भगोने में गोलाई में एक परत जैसी बन जाए।

hj

मैदे का यह मिश्रण घी के ऊपर तैरने लगेगा। अगर मैदा बीच में जमा हो रहा हो, तो उसे चाकू या किसी अन्य नुकीली चीज से किनारे की ओर कर दें और मिश्रण के बीच में एक बड़ा सा छेद कर दें।

लगभग 2 मिनट बाद फिर से मैदे का घाेल गोलाई से भगाेने में डालें और एक के ऊपर एक करके दो या तीन (जितनी मोटाई आप चाहें) बना लें। जब घेवर की पर्त भगोने में मनचाहे साइज की बन जाए, तो उसपर मैदे का घोल न डालें और उसे सुनहरा होने तक सेंक लें।


सुनहरा होने पर घेवर के बने छेद में चाकू या सींक डाल कर निकला लें। फिर उसे किसी बर्तन के ऊपर लटका कर रख दें, जिससे उसका अतिरिक्त घी निचुड कर निकल जाए।

hj

सारे घेवर सिंक जाने के बाद चाशनी की तैयारी करें। इसके लिए पानी में शक्कर मिलाकर उसे पका कर दो तार की चाशनी बना लें। चाशनी बन जाने पर सिंके हुए घेवर किसी चौड़े बर्तन में रखें और ऊपर से चाशनी डाल दें।

15 मिनट तक चाशनी में भीगने के बाद घेवर को चाशनी से निकाल लें और उसे किसी स्टील की रॉड या कलछुल में पहना कर किसी बरतन के ऊपर रख दें, जिससे उसमें लगी हुई अतिरिक्त चाशनी निकल जाए।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन 

 

 

लीजिए आपकी घेवर बनाने की विधि कम्‍प्‍लीट हुई। अब आपकी घेवर स्वीट तैयार हैं। बस इनके ऊपर रबड़ी की एक पर्त लगाएं और ऊपर से कटे हुए बादाम, पिस्ता छिड़क कर सर्व करें।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166 

vbnvb

 

More From lifestyle

Trending Now