संजीवनी टुडे

हैवी ब्लीडिंग की समस्या को दूर करेंगे ये घरेलु नुस्खे

संजीवनी टुडे 23-04-2019 01:01:00


हैवी ब्लीडिंग के कारण महिलाओं में एनीमिया की शिकायत

हैवी ब्लीडिंग के कारण महिलाें काफी कमजोरी महसूस होने लगती हैं। कई बार स्थिति इतनी बुरी हो जाती है कि महिला को एनीमिया की शिकायत हो जाती है। अगर आप भी हैवी ब्लीडिंग से गुजर रही हैं तो समय रहते डॉक्टर से संपर्क करें। 

हैवी ब्लीडिंग के कारण 
बहुत अधिक वजन 
दवाइयां का सेवन
बिगड़ता हॉर्मोन्स संतुलन
यूट्रस में ट्यूमर
ज्यादा स्ट्रेस लेना
पेल्विक इंफैक्शन 

ु

हैवी ब्लीडिंग को दूर करने के आसान घरेलू उपाय

ु
सरसों के दाने

सरसों के दानों को मिक्सी में डालकर उसका पाउडर बना लें। पीरियड्स में हैवी ब्लीडिंग होने पर गुनगुने दूध के साथ 1 चम्मच इसके पाउडर को फांक लें। इससे काफी आराम मिलेगा।

सौंफ का पानी

सौंफ भी पीरियड्स में काफी फायदेमंद साबित होती हैं। सौंफ को पीसकर उसका पाउडर बना लें और इसे 1 कप पानी के साथ लगभग 5 मिनट तक उबालें। छानकर हल्का गुनगुना कर रोजाना इसका सेवन करें। इससे भी आपको काफी आराम मिलेगा। 

ु

धनिया बीज 

आयुर्वेद के अनुसार, अधिक ब्लीडिंग होने पर धनिए के बीजों का इस्तेमाल वरदान साबित होता है। ये हॉर्मोन्स को संतुलित करने में मुख्य भूमिका निभाते हैं। धनिए के बीजों को 2 कप पानी में भिगो दीजिए। फिर इसे उबलने के लिए रख दीजिए। जब पानी उबलकर आधा हो जाए तो इसे उतारकर इसमें शहद मिलाकर पीएं।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

दालचीनी पाउडर

दालचीनी भी हैवी ब्लीडिंग को रोकने में काफी कारगर साबित होती है। एक चम्मच दालचीनी को गर्म पानी में मिलाएं और  फिर इसमें शहद मिलाकर पिएं। दिन में 2 बार इसका सेवन करने से आपको काफी राहत महसूस होगी। 

सिरके का पानी 

अधिक ब्लीडिंग होने पर सिरके का इस्तेमाल करें। यह शरीर की सारी गंदगी को बाहर निकालने और हॉर्मोन्स संतुलित रखने में मदद करता है, जिससे हैवी ब्लीडिंग की समस्या कम होती है। 1 गिलस पानी में 2 से 3 चम्मच सिरका मिलाकर पिए। ऐसा दिन में 2 बार करें। इससे आपको फर्क नजर आएगा। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

बर्फ की सिंकाई

पीरियड्स के दौरान बहुत अधिक ब्लीडिंग की शिकायत रहती है तो ठंडा बैग इस्तेमाल करें। इससे ब्लीडिंग में कमी आएग और पीरियड्स का दर्द कम होगा। एक तौलिए में बर्फ के कुछ टुकड़े डालकर उसे अच्छी तरह बांध लें, फिर इस पोटली को 15 से 20 मिनट तक पेट पर रखें, ऐसा दिन में 3-4 बार करें। इससे भी आपको आराम मिलेगा। 

More From lifestyle

Loading...
Trending Now
Recommended