संजीवनी टुडे

बीमारी का संकेत है दांतों की झनझनाहट, हर तीन में से एक व्यक्ति इस रोग से पीड़ित

संजीवनी टुडे 10-04-2019 13:14:38


जयपुर। बदलते समय के साथ लोगों की जीवनशैली भी बदल रही है। लोग अब ऐसी चीज़ें ज्यादा खाते हैं जिनमें हाई एसिड होता है इससे दांतों की इनेमल को नुकसान हो सकता है जो बाद में दांतों की सेंसिटिविटी में बदल जाता है। कुछ लोग कठोर रेशों वाले टूथब्रश का इस्तेमाल करते हैं, इससे भी मसूड़े कमजोर हो जाते हैं। मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

RR

राज डेंटल हॉस्पिटल के सीनियर डेंटिस्ट डॉ राजेन्द्र बताते हैं कि, हर तीन में से एक भारतीय दांतों में सेंसिटिविटी महसूस करता है, जब वह कुछ ठंडा खाता है। लेकिन सेंसिटिविटी से पीडि़त सिर्फ 20 फीसदी लोग ही इसका इलाज करते हैं।

सेंसिटिविटी से न छोडें पसंदीदा खाना --
डॉ यादव ने कहा कि, आमतौर पर जब लोगों के दांतों में सेंसिटिविटी होती है, तो उनके दिमाग में यह नहीं चलता कि इसे दूर कैसे किया जाए। इसके बजाए वे ऐसी चीजों को खाना छोड़ देते हैं, जिनसे उन्हें सेंसिटिविटी होती है। ऐसे में वह अपनी जिंदगी के अनमोल पलों को खुलकर जी नहीं पाते हैं। सेंसिटिविटी के कारण वे अपने लाइफस्टाेइल को ही चेंज करने लगते हैं। वे अपना पसंदीदा खाना नहीं खाते हैं, अपनी फेवरेट ड्रिंक से दूरी बना लेते हैं। इससे उनकी पर्सनल और सोशल दोनों लाइफ प्रभावित होती है। 

RR

कई कारण से होती है सेंसिटिविटी --

दरअसल, दांतों में सेंसिटिविटी के कई कारण हो सकते हैं। इनमें इनेमल का कमजोर होना प्रमुख कारण है। डेंटाइन किसी दांत का आंतरिक हिस्सा होता है, जो इनेमल से ढंका हुआ होता है। जब इसमें खाना-पीना लगता है, तो दर्द और सनसनाहट महसूस होती है जो जड़ तक जाती है। डॉ राजेन्द्र यादव बताते हैं कि, दांतों की लगातार टूट-फूट से इनेमल पतली हो जाती है। इनेमल निकल जाने से जड़ों को कवर करने वाला तत्व सेमेंचम भी निकल जाता है। इससे डेंटाइन खुल जाती है जिसकी दांत के अंदर छोटी नसें होती हैं। अब अलग-अलग खाने के तापमान होने की वजह से इनमें दर्द होता है। कैविटी और दांतों की सड़न नसों की जड़ों तक पहुंच जाती है। इससे मसूड़े कमजोर पड़ने लगते हैं। अगर समस्या बढ़ जाए, तो दांत टूट भी सकता है। मसूड़ों के ढीले पड़ने से डेंटाइन खुल जाती है और फिर दांत सेंसिटिव होने लगते हैं।

RR

MUST WATCH & SUBSCRIBE

एसिड वाली चीजें करती नुकसान

वहीं कठोर रेशों वाले टूथब्रश भी मसूड़ों को कमजोर बनाते हैं। अगर आप लंबे समय तक ऐसी चीज़ें खाते हैं जिनमें हाई एसिड होता है जैसे प्रोसेस्ड फूड, तो इससे आपका इनेमल को नुकसान हो सकता है जो बाद में दांतों की संवेदनशीलता में बदल जाता है। इस समस्या के सामने आते ही अच्छे डेंटिस्ट से संपर्क कर इलाज कराएं। ध्यान नहीं देने पर परेशानी बढती है और दांतों को खतरा हो जाता है। 
 

More From lifestyle

Trending Now
Recommended