संजीवनी टुडे

स्टडी में हुआ खुलासा: महिलाओं के मेकअप प्रोडक्ट्स बच्चों के लिए हो सकते हैं नुकसानदायक

संजीवनी टुडे 19-06-2019 12:39:23

खूबसूरत दिखने के लिए महिलाएं कई तरह के कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स को इस्तेमाल करती हैं। एक नए अध्ययन में यह सामने आया है कि नेल पॉलिस, शैंपू, लोशन, और नेल पॉलिस रिमूवर जैसे पर्सनल केयर उत्पाद बच्चों के लिए बेहद नुकसानदायक है।


डेस्क। खूबसूरत दिखने के लिए महिलाएं कई तरह के कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स को इस्तेमाल करती हैं। एक नए अध्ययन में यह सामने आया है कि नेल पॉलिस, शैंपू, लोशन, और नेल पॉलिस रिमूवर जैसे पर्सनल केयर उत्पाद बच्चों के लिए बेहद नुकसानदायक है। कई बार अभिभावकों की लापरवाही बच्‍चे के लिए घातक साबित हो सकती है। अध्‍ययन बताते हैं कि पर्सनल केयर प्रोडक्‍ट्स आपके बच्‍चों में बहुत तेजी से जहर फैलाने और त्‍वचा में एलर्जी और जलन पैदा करने के साथ जानलेवा भी हो सकते हैं। इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि बच्चे इन पर्सनल केयर उत्पादों में दिलचस्पी लेते ही हैं। कोई अपनी मां की लिपस्टिक लगाना पसंद करती है तो किसी को नेल पॉलिश लगाना अच्छा लगता है।

जानकारी के अनुसार अमेरिका के नेशनवाइड चिल्ड्रन अस्पताल के शोधकर्ताओं ने पाया कि इन उत्पादों की वजह से हर साल 5 साल से कम उम्र के 4300 से अधिक बच्चे इन उत्पादों की वजह से हुई परेशानियों का इलाज कराते हैं।

इस रिपोर्ट के लेखक ने हर माता पिता से आग्रह किया है कि वे अपने ब्यूटी प्रोडक्ट्स को बच्चों की पहुंच से दूर रखें। नेशनवाइड की रिसर्चर रेबेका मैकएडम्स बताती हैं कि प्रोडक्ट्स पर लिखी चीजें बच्चे पढ़ नही सकते। वे बोटल पर रंग बिरंगे लेबल देख उनकी तरफ आकर्षित होते हैं और इन्हें खाने पीने की कोशिश करते हैं।

s

क्लीनिकल पेडियाट्रिक्स में प्रकाशित नए अध्ययन के अनुसार, बच्चों के लिए हेयर प्रोडक्ट्स सबसे ज्यादा खतरनाक ब्यूटी प्रोडक्ट्स में से एक हैं। साल 2002 से 2016 में ब्यूटी प्रोड्क्ट्स की वजह से छोटे बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराए जाने वाले बच्चों में 52 प्रतिशत हेयर प्रोड्क्ट्स के शिकार हुए थे। क्लीनिकल पीडियाट्रिक्स जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, और शोधकर्ताओं का मानना है कि अमेरिका में 2002 से 2016 से 5 साल से कम उम्र के 64600 बच्‍चों में पर्सनल केयर प्रोडक्‍ट से संबंधित चोटों के लिए इलाज किया गया है।

s

शोधकर्ताओं के अनुसार, इन उत्‍पादों से होने वाले नुकसान को तीन उत्पाद श्रेणियों बांटा गया। जिसमें नेल पॉलिस या रिमूवर जैसे उत्पाद 28.3 प्रतिशत, शैंपू, साबुन या कंडीशनर 27 प्रतिशत और स्किन केयर उत्‍पाद 25 प्रतिशत थे। इसके बाद खुशबूदार उत्पादों को 12 प्रतिशत रखा गया। मैकएडम्स ने आगे बताया कि कई बार बच्चे नेल पॉलिश रिमूवर को जूस और लोशन को योगर्ट समझ लेते हैं, जिस वजह से बड़ी परेशानियां आ खड़ी होती हैं। सबसे ज्यादा हादसे नेल पॉलिश रिमूवर से देखने में आते हैं। इसलिए मेकअप प्रोडक्ट्स को बच्चों की पहुंच से दूर रखें। भूल से भी बच्‍चे को कभी इन उत्‍पादों को खिलौने के तौर पर खेलने के लिए न दें।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166 

 

More From lifestyle

Trending Now
Recommended