संजीवनी टुडे

गर्मी की हर समस्या छुटकारा दिलाये पुदीना, जाने इसके चमत्कारिक फायदे

संजीवनी टुडे 23-05-2019 09:37:36


डेस्क। पुदीना गर्मियों में बहुत ही फायदेमंद होता हैं। पुदीने को गर्मी और बरसात की संजीवनी बूटी कहा गया है, स्वाद, सौन्दर्य और सुगंध का ऐसा संगम बहुत कम पौधों में दखने को मिलता है। पुदीने की पत्तियों को मुख्य रूप से चटनी बनाने में इस्तेमाल किया जाता है। इसकी चटपटी चटनी खाने के स्वाद को दोगुना कर देती है।पुदीना मेंथा वंश से संबंधित एक बारहमासी, खुशबूदार जड़ी है। इसकी विभिन्न प्रजातियाँ यूरोप, अमेरिका, एशिया, अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया मे पाई जाती हैं, साथ ही इसकी कई संकर किस्में भी उपलब्ध हैं। पुदीने से चटनी बनाई जाती है, या यह जलजीरा बनाने में इस्तेमाल होता है लेकिन यहां हम आपको बता दें के पुदीने में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं। आइए जानते हैं पुदीना के औषधीय गुण। 

लू लगना: गर्मियों के दिनों में लू लगना एक आम समस्या है। पुदीने का पना लू से बचने के लिए बड़ा ही कारगर उपाय है। पुदीने का पना बनाने के लिए पुदीने की पतियों में थोड़ा पानी डालकर पीस लें। बाद में एक महीन कपडे से छानकर उसका रस निकाल ले तथ उसमे थोड़ा भुना हुआ जीरा एवं नमक मिला ले। 

 पेट दर्द- पुदीने की पत्तियां, भुना हुआ जीरा, लहसुन, सौंठ, काली मिर्च, कला नमक और धनिया इन सबको समान मात्रा में लेकर चूर्ण तैयार करे तथा गुनगुने पानी के साथ सेवन करने से अपच, अजीर्ण, अरुचि, मंदाग्नि, अफरा, पेचिश, पेट में मरोड़, अतिसार, उल्टियाँ, खट्टी डकारें आदि में लाभ मिलता हैं। 

s

पाचनशक्ति तेज – पुदीने में उपस्थित एंटीऑक्सीडेंट तथा पोषक तत्व के कारण इसका सेवन जलन तथा अपच में लाभ पहुचता है। ताजा पुदीना, काली मिर्च, अदरक, सेंधा नमक, काली द्राक्ष और जीरा – इन सबकी चटनी बनाकर उसमें नींबू का रस निचोड़कर खाने से रूचि उत्पन्न होती है, वायु दूर हो कर पाचनशक्ति तेज होती है | पेट के अन्य रोगों में भी लाभकारी है |यह लार ग्रंथियों को उत्तेजित करता है जो की भोजन पचाने में सहायक हैं!

नकसीर : गर्मियों में नकसीर की समस्या बहुत ज्यादा होती हैं  नाक में पुदीने के रस की 3 बूँद डालने से रक्तस्त्राव बंद हो जाता हैं |

उच्च तथा निम्न रक्तचाप: पुदीने का रस उच्च रक्त चाप को नियंत्रित करने में सहायता करता है तथा निम्न रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए इस रस में काली मिर्च, नमक तथा थोड़ी शक्कर मिला कर सेवन करें। 

s

गर्मी की फुंसियाँ : समान मात्रा में सूखा पुदीना एंव मिश्री पीसकर रख लें | रोज प्रात: आधा गिलास पानी में 4 चम्मच मिलाकर पियें |

हिचकी :पुदीने या नींबू के रस-सेवन से राहत मिलती हैं |

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

सावधानियां – पुदीने का सेवन अत्यधिक मात्र में न करें क्योंकि अन्यथा यह त्वचा में जलन एवं सांस सम्बंधित परेशानी कर सकता है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From lifestyle

Trending Now
Recommended