संजीवनी टुडे

सीताफल खाने के होते है ये बड़े फायदे, जानकर हो जाऐगे हैरान

संजीवनी टुडे 19-06-2019 01:01:00

आपको बता दे की शरीफा या सीताफल एक मीठा फल ही नहीं बल्कि एक औषधि भी है, जो की एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन्स और मिनरल्स से गुणों से भरपूर सीताफल का सेवन ना सिर्फ खून की कमी को पूरा करता है बल्कि इससे कैंसर जैसी बामारियां भी दूर रहती हैं


डेस्क। आपको बता दे की शरीफा या सीताफल एक मीठा फल ही नहीं बल्कि एक औषधि भी है, जो की एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन्स और मिनरल्स से गुणों से भरपूर सीताफल का सेवन ना सिर्फ खून की कमी को पूरा करता है बल्कि इससे कैंसर जैसी बामारियां भी दूर रहती हैं। आइए जानते है कैसे।  


सीताफल की न्यूट्रीशस वैल्यू

एक कप (Pulp - 250 g) सीताफल में 235 कैलोरी, 0.1 ग्राम संतृप्त फैट, 0.1 ग्राम पॉलीअनसेचुरेटेड फैट और 0.3 ग्राम मोनोअनसैचुरेटेड फैट होता है, जिससे वजन घटाने में मदद मिलती है। इसके अलावा इसमें 22.5 mg सोडियम, 7% पोटेशियम, 19% कार्बोहाइड्रेट, 44% डाइटरी फाइबर, 10% प्रोटीन, 1% विटामिन ए, 151% विटामिन सी, 6% कैल्शियम, 8% आयरन, 25% विटामिन B6 और 13% मैग्नीशियम होता है।

कैंसर

एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर सीताफल शरीर को फ्री रैडिकल्स से लड़ने में मदद करता है, जिससे आप कैंसर जैसे रोगों से बचे रहते है।

वजन घटाए

लो कैलोरी और लौ फैट होने के कारण इसका सेवन शरीर में फैट बर्न करने में मदद करता है। साथ ही इसका सेवन भूख को कंट्रोल करता है, जिससे आपको वजन घटाने में मदद मिलती है।

खून की कमी

आयरन से भरपूर होने के कारण यह शरीर में खून की कमी को पूरा करता है। साथ ही इससे रक्त के थक्के जमना और गठिया जैसी समस्याएं भी नहीं होती। इसके अलावा मौजूद मैग्नीशियम और कैल्शियम हड्डियों को मजबूत करके जोड़ो और घुटनों के दर्द को भी दूर करता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए लाभदायक 

गर्भवती महिलाओं के लिए सीताफल का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। रोजाना इसका सेवन गर्भवती स्त्री के भ्रूण विकास के लिए शरीर में हीमोग्लोबिन बनाने में मदद करता है।

आंखों की रोशनी

सीताफल को रोजाना खाने से आंखों की रोशनी तेज होने के साथ चश्मा भी उतर जाता है। इसके अलावा इससे तनाव और डिप्रेशन कम होता है।

डायबिटीज और हार्ट डिसीज

लो कैलरी और एंटी हाइपर ग्लाइसेमिक के गुणों के कारण इससे शुगर कंट्रोल में रहती है। साथ ही सोडियम और पोटेशियम से भरपूर सीताफल से कैलोस्ट्रॉल कंट्रोल करके दिल की बीमारीयों से दूर रखता है।

दुरुस्त पाचन क्रिया

यह आंतों से टोक्सिन को बाहर निकाल कर पाचनतंत्र को स्वस्थ रखता है। जिससे सीने में जलन, एसिडिटी, छालों और गैस जैसी प्रॉब्लम दूर होती है।

त्वचा को देता है नमी 

विटामिन ई से भरपूर होने के कारण यह त्वचा को मॉइश्चराइज करता है। इसके नियमित इस्तेमाल से त्वचा में निखार आता है और त्वचा तरोताजा बनी रहती है। यही नहीं, त्वचा पर उभरने वाली महीन रेखाएं भी इससे दूर हाेती हैं।

बढ़ती उम्र की समस्याएं

इसमें अमीनो एसिड भरपूर मात्रा में होता है, जिससे त्वचा में कोलेजन का स्तर बढ़ता है और आप बढ़ती उम्र की समस्याओं से बचे रहते हैं। साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट फ्री-रेडिकल डैमेज की रोकथाम में मदद करते हैं, जिससे त्वचा में चमक और कसावट आती है।

मजबूत दांत

सीताफल आपके दांतों के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। इसको नियमित खाकर आप दांतों और मसूड़ों में होने वाले दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

फोड़े-फुसियों से राहत

गर्मियों में पसीने के कारण फोड़े-फुसियों की समस्या आम देखने को मिलती है। ऐसे में आप सीताफल के पत्तों को पीसकर फोड़ों-फुसियों पर लगाएं। इससे आपको राहत मिलेगी।

झड़ते बालों की समस्या

सीताफल शरीर को पोषण प्रदान करता है। यह एक एेसा फल है जिसको खाने से कुछ ही दिनों में बाल बढ़ने लगते हैं। आप चाहे तो सीताफल के पत्तों और बेर के बीजों को मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर सकते हैं। हफ्ते में 2 बार इस पैक को लगाने से बाल झड़ने बंद हो जाते हैं।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166 

 

More From lifestyle

Trending Now
Recommended