संजीवनी टुडे

अगर आप अपनी उम्र बढ़ाना चाहते हैं तो पुरुष ये खबर जरूर पढ़े

संजीवनी टुडे 22-08-2019 09:31:58

पुरुष अपनी सेहत का ध्यान रखना अक्सर भूल जाते हैं या ध्यान देते ही नहीं है। लेकिन जब बढ़ती उम्र के दौरान केवल अपनी त्वचा की देखभाल करने का जिम्मा महिलाओं का हुआ करता था। लेकिन इन दिनों पुरुष भी अपनी बढ़ती उम्र पर बहुत अधिक ध्यान देने लगे हैं। फिर वो चाहे अंदरुनी सेहत हो या स्किन की समस्या।


डेस्क। हर कोई जवान रहना चाहता हैं। पुरुष अपनी सेहत का ध्यान रखना अक्सर भूल जाते हैं या ध्यान देते ही नहीं है। लेकिन जब बढ़ती उम्र के दौरान केवल अपनी त्वचा की देखभाल करने का जिम्मा महिलाओं का हुआ करता था। लेकिन इन दिनों पुरुष भी अपनी बढ़ती उम्र पर बहुत अधिक ध्यान देने लगे हैं। फिर वो चाहे अंदरुनी सेहत हो या स्किन की समस्या। ऑफिस में पूरा दिन मेहनत करने के बाद अपनी परेशानियों की तरफ ध्यान जाता ही नहीं है। बुरी आदतों जैसे धूम्रपान, शराब का सेवन अधिक नहीं करना चाहिए। अगर आप लम्बी उम्र चाहते हैं तो हम आपको बता देते हैं कुछ टिप्स जो आपके हेल्दी रखने में मदद करेगी। 

यह खबर भी पढ़े: सेहत के लिहाज से बहुत फायदेमंद है मशरूम, जानिए कैसे...

अश्वगंधा: अश्वगंध आयुर्वेद में सबसे महत्वपूर्ण जड़ी बूटियों में से एक है। इसमें मौजूद कुछ गुण कोर्टिसोल स्तर को कम करने में सहायता करते हैं। तनाव के कारण उपजा कोर्टिसोल नामक हार्मोंन आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। कई अध्ययनों में अश्वगंधा को ब्लड शुगर के स्तर को कम करने के लिए बेहतर बताया गया है। साथ ही यह ट्यूमर सेल्स को मार सकता है और कई प्रकार के कैंसर के खिलाफ प्रभावी हो सकता है।

sdh
कद्दू के बीज: कद्दू के बीज हमारे लिए बेहद लाभकारी होते हैं।   कद्दू में कुछ ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो दूसरी किसी सब्जी में नहीं मिलते हैं। कद्दू के बीज में मौजूद पोषक तत्व जैसे जिंक, पोटैशियम और आयरन प्रोस्टेट स्वास्थ्य को बेहतर बनाते हैं। एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि कद्दू के बीज से बढ़ते प्रोस्टेट वाले पुरुषों में सामान्य मूत्र प्रवाह को प्रोत्साहित किया जाता है। 

देवदार की छाल: शोध के अनुसार, देवदार की छाल प्रोस्टेट स्वास्थ्य को प्रोत्साहित करने के लिए पोषण सहायता प्रदान करता है। देवदार की छाल शुक्राणु की गुणवत्ता को भी बेहतर करता है और उसकी मात्रा को भी बढ़ाता है।  देवदार की छाल एक नेचुरल एंटीऑक्सीडेंट है। इसकी छाल के पाउडर का प्रयोग कई तरह के सप्लीमेंट बनाने में भी किया जाता है। 

sdh

हल्दी: हल्दी एंटीऑक्सीडेंट में उच्च होती है, जो मांसपेशियों और इर्रिटेट टिशू को शांत करता है। हल्दी सौंदर्य वृद्धि करने के साथ ही त्वचा की समस्याओं को भी दूर करती है। अध्ययन में पाया गया है कि हल्दी से पुरुषों में प्रोस्टेट की समस्याओं और मूत्र संबंधी कठिनाइयों को कम करने में सहायता मिलती है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166 

More From lifestyle

Trending Now
Recommended