संजीवनी टुडे

अगर आप खाएंगे घर में मौजूद ये नेचुरल एंटीबायोटिक्‍स तो डॉक्टर के नहीं लगाना पड़ेगा चक्कर!

संजीवनी टुडे 23-01-2020 09:40:34

कुछ हर्ब कई जड़ी बूटियों में एंटी बैक्‍टीरियल और एंटीफंगल गुण मौजूद होते हैं जो कुछ बीमारियों को ठीक करने में हेल्‍प करते हैं। जैसे क्रैनबेरी अर्क जिसमें एंटी-बैक्‍टीरियल गुण मौजूद होते हैं यूरिन ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन के लिए एक घरेलू उपचार है।


डेस्क। एंटीबायोटिक्स को लगभग सभी लोग जानते हैं कि जब बुखार, ज्वर, खांसी, मलेरिया, वायरल, संक्रामण बीमारियां शरीर में ज्यादा दिनों तक रहता है, तो डॉक्टर इनका सेवन करने की सलाह देते हैं। वहीं दवाईयों की खुराक हमें परेशान करती है। इन चीजों का हमारी बॉडी पर भी असर पड़ता है और ऑफिस-घर का काम भी प्रभावित होता है। आपको एंटीबायोटिक लेने के बाद पेट संबंधी समस्‍याएं होने लगती है, कुछ तरह की दवा से एलर्जी भी होने लगती है। ऐसे में आप नेचुरल एंटीबायोटिक दवाएं ले सकते हैं। जी हां कुछ हर्ब कई जड़ी-बूटियों में एंटी-बैक्‍टीरियल और एंटीफंगल गुण मौजूद होते हैं जो कुछ बीमारियों को ठीक करने में हेल्‍प करते हैं। जैसे, क्रैनबेरी अर्क, जिसमें एंटी-बैक्‍टीरियल गुण मौजूद होते हैं, यूरिन ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन  के लिए एक घरेलू उपचार है। अगर आप जानना चाहती हैं कि ये नेचुरल एंटी-बायोटिक्स कौन से हैं तो इस आर्टिकल को जरूर पढ़ें। लेकिन आपको इस बात का ध्‍यान रखना होगा कि अगर आपको किसी भी चीज से एलर्जी हैं तो आप इन चीजों को इस्‍तेमाल करने से बचें।

 ये खबर भी पढ़े: रोज पिए एक गिलास बकरी का दूध, होते हैं ये अध्बुध फायदे!

lifestyle
अदरक: अदरक भी एक नेचुरल एंटीबायोटिक है। अदरक में कई तरह के गुण होते हैं। ताजे अदर को ऐसे भी खाया जा सकता है, इसके पावडर को खाया जा सकता है या फिर सूखाकर भी खाया जा सकता है। कई अध्ययनों से पता चलता है कि बैक्टीरिया से होने वाली हेल्‍थ प्रॉब्लम्स को नेचुरल एंटीबायोटिक अदरक ना सिर्फ ठीक करती है बल्कि बचाती भी है। पेट के लिए तो अदरक को रामबाण माना जाता है। अदरक की चाय पीने से बैक्टीरिया इंफेक्‍शन खत्म करने में बहुत हेल्‍प मिलती है। आप चाहे तो रोजाना इसका एक टुकड़ा खा सकती हैं या खाने में इसे शामिल कर सकती हैं।

lifestyle

लहसुन: लहसून सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। ये एंटीफंगल, एंटीबेक्टेरियल और एंटी-कैंसर एजेंट्स होता हैं। इसके अलावा इसमें विटामिन, न्यूट्रिएंट्स और मिनरल्स पाए जाते हैं जो बैक्टीरिया दूर करने में बहुत हेल्‍प करते हैं। जी हां लहसुन में दूसरी चीजों की तुलना में ई- कोलाई और टीबी को ठीक करने में आपकी मदद करता है। रोजाना आप 2 लहसुन की कली अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। आप चाहे तो इसे ऐसे ही खा लें या दाल मे तड़का लगाकर खाएं।

lifestyle

शहद: शहद को सबसे अच्छा घरेलू एंटीबायोटिक माना जाता है क्‍योंकि इसमें एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्‍टीरियल तत्व मौजूद होते हैं। माना जाता है कि एक सामान्य शहद 60 तरह के बैक्टिरिया को मारते हैं। जी हां पुराने समय से, शहद का इस्‍तेमाल घाव और इंफेक्‍शन को ठीक करने दवा के रूप में किया जाता रहा है। शहद से कोई भी घाव, जलने, अल्सर और त्वचा के घावों का इलाज कर सकता है। इसके अलावा इसे खाने से आपका इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। आप चाहे तो रोजाना दालचीनी में बराबर मात्रा में शहद मिलाकर ले सकती है या रोजाना 1 चम्‍मच ऐसे ही खा सकती हैं।

lifestyle

नीम: नीम को भी नेचुरल एंटीबायोटिक माना जाता है। नीम से न केवल स्किन से जुड़ी समस्‍याओं जैसे पिंपल और एक्ने के बैक्टीरिया को दूर किया जा सकता है। बल्कि नीम से मुंह से जुड़ी कई समस्याओं जैसे कैविटी, मसूड़े की सूजन आदि को भी दूर किया जा सकता है। इसके अलावा नीम आपकी हेल्‍थ के लिए भी बहुत अच्‍छा होता है।

lifestyle

लौंग: दांतों में दर्द के इलाज के लिए ज्‍यादातर महिलाएं इसका इस्‍तेमाल करती हैं। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि लौगई- कोलाई सहित बैक्टीरिया से लड़ने में हेल्‍प करता है।

lifestyle

नोट: लेकिन इन हर्ब्‍स को बहुत अधिक मात्रा में लेने से बचें क्‍योंकि इससे आंतरिक ब्‍लीडिंग हो सकती है। और एंटीबायोटिक के रूप में इस्‍तेमाल करने से पहले एक बार अपने डॉक्‍टर से परामर्श करें।

 जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में बुक करें 9314166166 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From lifestyle

Trending Now
Recommended