संजीवनी टुडे

अगर आप भी है गर्भवती तो इन 3 चीजों का भूलकर भी न करें सेवन, वरना...

संजीवनी टुडे 12-09-2019 09:16:43

गर्भवती होने पर एक महिला अन्य महिलाओं की तुलना में कई मायनों में अलग हो जाती है। अपने और शिशु के बेहतर स्वास्थ्य के लिए गर्भवती को अपने लाइफस्टाइल के साथ साथ अपने खानपान पर भी विशेष ध्यान रखना होता है।


डेस्क। माँ बनना हर मिला का सपना होता हैं। जब महिला एक नए जीवन को जन्म देती है। ये लम्हा हर महिला के लिए बेहद खास होता है जब वह बच्चे को जन्म देती है। गर्भवती होने पर एक महिला अन्य महिलाओं की तुलना में कई मायनों में अलग हो जाती है। अपने और शिशु के बेहतर स्वास्थ्य के लिए गर्भवती को अपने लाइफस्टाइल के साथ साथ अपने खानपान पर भी विशेष ध्यान रखना होता है। गर्भावस्‍था में क्‍या खाया जाए से जरूरी यह जानना है कि क्‍या न खाया जाए। इसलिए यह जरुरी है कि महिलाएं गर्भवस्था के दौरान खान-पान के चीजों में कुछ चीजों का सेवन ना करें, इससे उनकी सेहत और उनके पेट में पल रहे शिशु पर असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं कि गर्भावस्था के दौरान कौन-से खानें की चीजें हैं जहर।

यह खबर भी पढ़े: शरीर में खुजली होना हैं बेहद खतरनाक, इन बिमारियों को देते हैं न्योता

कच्चा पपीता गर्भावस्था के लिए जहर: गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को चुनींदा फलों का सेवन नहीं करना चाहिए जिनमें कच्चा पपीता मुख्य है। कच्चे पपीते में लेटेक्स होता है जो प्रेग्नेंसी के शुरुआती दिनों में मिस्कैरिज का रिस्क खड़ा कर सकता है।  आपको बता दें कि, कच्चा पपीता  गर्भवती महिलाओं के लिए जहर होता है जिसके सेवन से महिलाएं अपने शिशु से हाथ धो सकती है। कच्चे पपीते में पाए जाने वाले तत्व से महिलाओं को मिसकैरिज यानी की गर्भपात का खतरा हो सकता है।
dfsdf

चाइनीज फूड का ना करें सेवन: चाइनीज़ फूड में एमएसजी होता है, यानी मोनो सोडियम गूलामेट, जो फीटस के विकास के लिए हानिकारक है और इसके चलते काई बार जन्म के बाद भी बच्चे में डिफेक्ट्स दिख सकते हैं। चाइनीज फूड का सेवन गर्भावस्था के दौरान नहीं करना चाहिए, क्योंकि इसके सेवन से महिलाओं के स्वास्थ्य पर असर पड़ सकता है और साथ ही उनके शिशु पर भी खतरा बना रह सकता है। चाइनीज फूड में पाए जाने वाला सोया सॉस गर्भ में पल रहे शिशु के लिए हानिकारक है, क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में नमक पाया जाता है जो महिलाओं के रक्तचाप को बढ़ाने के लिए काफी है।

dfsdf

मछली खाने से बचें: मछली में भारी मात्रा में मर्करी पाई जाती है। ऐसे में प्रेग्नेंसी के दौरान मछली का सेवन बच्चे के शारीरिक विकास में देरी और उसके दिमाग को नुकसान पहुंचाने का कारण बन सकता है। इस दौरान कच्ची मछली भी खाने से बचना चाहिए।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166 

More From lifestyle

Trending Now
Recommended