संजीवनी टुडे

अगर आप को भी आता है छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा तो ये खबर जरूर पढ़े

संजीवनी टुडे 17-02-2020 10:54:21

आजकल की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में लोग छोटी-छोटी बात पर गुस्सा होने लगते हैं। किसी भी अन्य भावना की तरह गुस्से में भी अपने निर्णयों को लेने पर सोचना चाहिए ताकि आपको बाद में पछताना न पड़े।


डेस्क। अक्सर हमारे जीवन में सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह की घटनाएं होती हैं। क्रोध मानवीय भावनाओं में सबसे आम भावनाओं में से एक है और आपके जीवन के सटीक क्षणों पर गुस्सा आना स्वाभाविक है। लेकिन आजकल की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में लोग छोटी-छोटी बात पर गुस्सा होने लगते हैं। किसी भी अन्य भावना की तरह, गुस्से में भी अपने निर्णयों को लेने पर सोचना चाहिए ताकि आपको बाद में पछताना न पड़े। जब भी आपको गुस्सा आए तो आपको क्या करना चाहिए इस पर एक नज़र डालें-

lifestyle

आचार्य चाणक्य कहते हैं की व्यक्ति क्रोध से अपना नाश करता है। मूर्ख लोगों को किसी प्रकार का कोई ज्ञान नहीं होता वे सब कार्य बिना सोचे-विचारे ही करते हैं। ऐसे लोग व्यर्थ में क्रोध करके अपना ही नाश कर लेते हैं। कुछ लोग कहते हैं कि गुस्सा आने पर उसे दबा लें। लेकिन भावनाओं को अपने भीतर दबाने से वह आपके दिमाग में हर पल घूमती रहेंगी। ऐसे में आप मानसिक स्थिति से परेशान रहेंगे और यह समाधान नहीं होगा। 

खुद पर नियंत्रण रखें: ऐसा जरूरी नहीं कि क्रोध और आवेश में कही गयी हर बात सत्य और सटीक ही हो। आवेश में अकसर इंसान अपना आपा खो देता है और शब्दों को तोलकर नहीं बोल पाता। फिर चाहे आप हों या सामने वाला, दोनों ही शर्मिंदा होते हैं।  क्रोध आप में गलतफहमी पैदा कर सकता है और आसान चीजों को समझना मुश्किल बना सकता है। किसी और की सलाह लेना सबसे अच्छा है जब आप कुछ समझ नहीं सकते। आपके करीबी लोग इस स्थिति को समझ सकते हैं और समस्या को हल करने के लिए कई दृष्टिकोण दे सकते हैं।

lifestyle

कुछ समय के लिए सामाजिक जीवन से बचें: क्रोध आने पर आपको अधिक समय अकेले में बिताना चाहिए जो आपको ध्यान देने में मदद कर सकता है, लेकिन यह विचारों को ख़राब भी बना सकता है।

बस थोड़े समय के लिए अपने दोस्तों और परिवार के साथ समय बिताने से बचें। यह आपको विचलित होने से रोकेगा और आपको अपने गुस्से को नियंत्रित करने का समय देगा।

अपनी चीजों को जाने दें जब आप उदास या निराश हो जाते हैं, इसलिए आपके सामाजिक साथी आपका समर्थन करेंगे और आपको अन्य काम करने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।

lifestyle

सोना नहीं चाहिए: बहुत से लोग क्रोध और अवसाद जैसी नकारात्मक भावनाओं से भागने के लिए सोना पसंद करते हैं। हालांकि, वैज्ञानिकों ने यह साबित कर दिया है कि नींद आपकी यादों को भावनात्मक बना सकती है, खासकर उन मुद्दों को विस्तृत कर सकती है।

अगर आप उम्मीद करते हैं कि जब आप नींद लेते हैं तो आपका गुस्सा खत्म हो जाता है, यह सिर्फ आपका भ्रम है। नींद सिर्फ एक ताजा अनुभव है, इसे विचार दूर नहीं होते है। इसके बजाय, जागते रहें और एक दोस्त के साथ अपने विचार साझा करें। 

lifestyle

-गुस्से से बचने के लिए आप अच्छी किताबों का सहारा ले सकते हैं। कहते हैं कि कुछ देर किताब पढ़ने से मन रिलैक्स फ़ील करता है। 

 ये खबर भी पढ़े: प्याज का बालों का जुड़ा है गहरा संबंध, आप भी जरूर जानें

 ये खबर भी पढ़े: खजूर में छिपे हैं सेहत के कई गहरे राज, जानिए खजूर खाने के फायदे

 जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में बुक करें 9314166166 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From lifestyle

Trending Now
Recommended