संजीवनी टुडे

अगर महिलाओं का शरीर देने लगे ये संकेत तो हो सकती है उसकी बच्चेदानी में गांठ

संजीवनी टुडे 21-08-2019 13:16:12

गर्भाशय में गांठ महिलाओं के लिए एक खतरनाक रोग है क्योंकि इसके कारण महिला की मां बनने की क्षमता प्रभावित होती है और कई मामलों में महिला कभी गर्भवती नहीं हो पाती है।


डेस्क। आजकल इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में और गलत खानपान की  वजह से 10 में से 7 महिलाएं किसी न किसी हैल्थ प्रॉब्लम की शिकार हैं। महिलाओं में एक उम्र के बाद गर्भाशय से जुड़ी बीमारी होने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है, इन बीमारियों में से एक है फाइब्रॉइड। जिसे आम भाषा में बच्चेदानी की गांठ भी कहते हैं। गर्भाशय में गांठ महिलाओं के लिए एक खतरनाक रोग है क्योंकि इसके कारण महिला की मां बनने की क्षमता प्रभावित होती है और कई मामलों में महिला कभी गर्भवती नहीं हो पाती है। महिला रोग विशेषज्ञों के अनुसार गांठ का आकार मूंगफली के दाने से लेकर खरबूजे जितना भी हो सकता है। 

यह खबर भी पढ़े: अगर आपको नहीं आती है समय पर नीद, तो फॉलो करें ये टिप्स

कुछ शारीरिक लक्षण जिनसे महिलाये इस बीमारी पता लगा सकती हैं:

-अगर बार-बार मूत्र आ रही हो तो ये खतरे का संकेत है। कई बार यूरिन इंफेक्शन की वजह से भी बार-बार पेशाब आती है लेकिन दोनों में अंतर करने के लिए डॉक्टर की राय लेना बहुत जरूरी है।

-यदि आपको नाभि के नीचे पेट में लगातार दर्द रहता हो और कभी-कभी इसकी पीड़ा असहनीय हो जाये तो ये फाइब्रॉइड का संकेत हो सकता है। 

sg

-थकान और चोट के दर्द से अलग पीठ के निचले हिस्से में दर्द हो तो ये इशारा फाइब्रॉइड की ओर होता है।

-लगातार लम्बे समय तक कब्ज  बना रहना भी फाइब्रॉइड हो सकता हैं।  

-मासिक धर्म का सामान्य से अधिक दिनों तक चलना। अर्थार्थ अगर किसी महिला को लंबे वक्त तक पीरियड चलते रहते हो तो भी यह फाइब्रॉइड हो सकता हैं, वैसे हॉर्मोनल बदलाव इसकी एक वजह हो सकते हैं लेकिन इस लक्षण को अनदेखा ना करें।

sg

-प्राइवेट पार्ट से खून आना, यह फाइब्रॉइड हो सकता हैं।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166 

 

More From lifestyle

Trending Now
Recommended