संजीवनी टुडे

गर्मियों में कितना उपयोगी है, जानिए पुदीना के चमत्कारिक गुण व लाभ

संजीवनी टुडे 17-05-2018 20:03:08


डेस्क।  पुदीना एक आयुर्वेदक औषधि भी है। पुदीना हरे रंग का एक छोटा सा पौधा होता है, जिसमें विटामिन ए, सी, मिनरल्स, कैल्शियम, आयरन, मैग्रीनिशयम, कॉपर और पौटेशियम पाया जाता है इसलिए यह हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। अगर आपके चेहरे पर पिंपल है तो पुदीने की कुछ पत्तियों को लेकर पेस्ट बना लें। फिर उसमें 2-3 बूंदे नींबू का रस मिलाकर इसे चेहरे पर कुछ देर के लिए लगाएं।

साफ पानी से चेहरा धो लें। कुछ ही दिनों में पिंपल से राहत मिल जाएगी। पुदीने की कुछ पत्तियों को पानी में पीसकर सोने से पहले रोज रात में लगाएं। झाइयों से मुक्ति मिलेगी। मक्खन में कुछ मात्रा पिसी हल्दी मिलाकर पैरों में लगाएं, इससे पैरों के दाग-धब्बे दूर होते हैं। कच्ची गाजर, टमाटर खाएं। इनमें मौजूद विटामिनों से स्किन में निखार आता है। हिचकी  में पुदीने के रस को पीने से फायदा मिलता है। अगर आपकी हिचकी बंद न हो तो पुदीने के पत्ते में नींबू का रस मिलाकर लें। साथ ही पुदीने के पत्तों पर शक्कर डालकर चबाएं हिचकी में लाभ होगा। हाई बीपी से रोगी को पुदीने का सेवन करना चाहिए। जब कि लो बीपी के पीडित की पुदीने की चटनी का सेवन करना चाहिए।

Health benefits of mints - Home Remedies in Hindi

पुदीने के लाभ-
`पुदीने की चटनी भोजन की अरुचि को खत्म करके भूख को बढ़ाती है। चटनी के सेवन से पेट जलन की बीमारी दूर होती है। चटनी बनाने के लिए – पुदीना, जीरा, हिंग, कालीमिर्च, नमक डालकर चटनी की तरह पीसें। मात्रा भी जैसे चटनी में लेते हैं, उतनी ही लें। इस चटनी को एक चम्मच मी मात्रा में एक गिलास पानी में उबालकर पी जायें। इससे बदहजमी और पेट दर्द से राहत मिलेगी |
`सिरदर्द, जुकाम में पुदीने के पत्तों को सूंघने से लाभ होता है।
`जुकाम, न्यूमोनिया होने पर पुदीने के रस की तीन बूंदें नाक के दोनों नथुनों में डालें तथा पुदीने व अदरक के रस की 1-1 चम्मच, एक चम्मच शहद में मिलाकर हर रोज दो बार लम्बे समय तक पीने से लाभ होता है।
`गैस- पुदीने का रस दो चम्मच, शहद एक चम्मच और एक चम्मच पानी मिलाकर पीने से लाभ होता है। दो चम्मच पुदीने के रस में जरा-सा काला नमक मिलाकर पीने से भी गैस में लाभ होता है।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में call: 09314166166

MUST WATCH

`पुदीने के पत्ते चाय की तरह उबालकर, छानकर एक कप पानी में स्वादानुसार चीनी मिलाकर गर्म-गर्म रोजाना तीन बार पियें। इससे बुखार उतर जायेगा।
`पेट में कीड़े हैं तो -30 ग्राम पुदीना और दस कालीमिर्च पीसकर एक गिलास पानी में घोलकर पीने से पेट में कृमि मरकर निकल जाते हैं।
`पेशाब खुलकर नहीं आता हो तो पुदीना और मिश्री पीसकर एक गिलास ठण्डे पानी में मिलाकर पिये।
इस प्रकार पोदीना औषदि के अनेक लाभ है जिनसे शरीर की अनेक बिमारियों को दूर किया जा सकता है।

sanjeevni app

More From lifestyle

Trending Now
Recommended