संजीवनी टुडे

कई बीमारियों के लिए रामबाण है पीपल का पत्ता, जाने इसके फायदे

संजीवनी टुडे 02-06-2019 12:07:33


डेस्क। पीपल का पत्ता तो आपने देखा ही होगा लेकिन आप इसके लाभकारी गुणों के बारे में नहीं  जानते होंगे। पीपल का आदिकाल से ही इस्तेमाल किया जा रहा है चाहे वो रोगों को ठीक करने में हो या पूजन के लिए हो, आज भी पीपल के पेड़ की पूजा का विशेष महत्व है। पीपल का पेड़ अपनी घनी छांव और ताजा प्राणवायु के लिए जाना जाता है और इसकी पूजा भी की जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि पीपल का पेड़ आपको सेहत से जुड़े लाभ भी देता है। लेकिन आयुर्वेद ही ऐसी गुणकारी दवाई है जिसका साइड इफ़ेक्ट नही होता है। ऐसे में आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर पीपल के पत्ते सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते है। 

पीपल औषधीय वृक्ष होता है। इसका सेवन गैस, कब्ज, पेट दर्द, सांस की तकलीफ और सर्दी-खांसी जैसी समस्याओं को दूर किया जा सकता है। इसके पत्ते,  फल लकड़ी और अन्य भागों में कुछ न कुछ औषधीय गुण होते है। पीपल से हम नपुंसकता  त्वचा रोग, अस्थमा, गुर्दे की बीमारी, कब्ज आदि रोगों का ठीक कर सकते है। पीपल के पत्‍तों में ग्‍लूकोज, फेनोलिक, मेनोस आदि पोषक तत्व होते है जबकि इसकी छाल में विटामिन K, टैनन और फाइटोस्‍टेरोलिन अच्छी मात्रा में होते है। इनमें एंटीऑक्सिडेंट और खनिज पदार्थ भी होते है। पीपल वृक्ष में इनका संग्रह होने के कारण यह औषधीय पेड़ कहलाता है। तो आइए जानते हैं कि पीपल के क्या-क्या फायदे और कैसे करें उपयोग-

पेट की समस्या: यदि आप पेट दर्द से परेशान है तो ड़रें नहीं पीपल वृ्क्ष आपकी मदद कर सकता है। पेट में गैस, एसिडिटी, कब्ज, पेट दर्द, अल्सर और इंफेक्शन की समस्या को दूर करने के लिए इसके ताजे पत्तों का रस रोजाना सुबह-शाम पीएं।  इसका सेवन आपकी पेट की हर समस्या से निजाद दिलाएगा। 

सांस संबंधी समस्याएं : सांस संबंधी किसी भी प्रकार की समस्या में पीपल का पेड़ आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। पीपल की छाल का अंदरूनी हिस्सा निकालकर सुखा लें। इसके बाद इसे पीस कर चूर्ण बनाने के बाद दूध में उबालकर पीएं. इसके सेवन से सांस संबंधी समस्याएं और अस्थमा की समस्या दूर होती है। 

दांतों के लिए: पीपल की दातुन करने से दांत मजबूत होते हैं, और दांतों में दर्द की समस्या समाप्त हो जाती है। इसके अलावा 10 ग्राम पीपल की छाल, कत्था और 2 ग्राम काली मिर्च को बारीक पीसकर बनाए गए मंजन का प्रयोग करने से भी दांतों की सभी समस्याएं समाप्त हो जाती हैं।

त्वचा रोग : त्वचा पर होने वाली समस्याएं जैसी दाद-खाज, खुजली, रैशेज और स्किन इंफेक्शन को दूर करने के लिए पीपल के पत्ते बहुत कामयाब हैं. पीपल के पत्तों का काढ़ा बना कर पी लें, इससे त्वचा सम्बन्धी सभी समस्या ठीक हो जाता है.

विष का प्रभाव: किसी भी जहरीले जीव-जन्तु के काटने पर पीपल के पत्तों का रस निकाल कर इस जगहें पर डालें। इसके अलावा उस व्यक्ति को थोड़ी-थोड़ी देर बार इसका रस पीलाएं। इससे विष का असर कम हो जाएगा। 

हिचकी आने पर :- 50-100 ग्राम पीपल की छाल का चारकोल बनाकर इसे पानी से बुझा दें। इस पानी के सेवन से हिचकी आनी बंद हो जाती है।

आंखों में दर्द :- पीपल की पत्तियों के दूध को आंखों पर लगाने से आंखों की पीड़ा कम होगी।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

नपुंसक्ता :- पीपल के फल के पाउडर का आधा चम्मच दिन में दूध के साथ तीन बार लेने से नपुंसकता समाप्त हो जती है तथा शरीर बलवान बनता है।

मात्र 220000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 931418818

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From lifestyle

Trending Now
Recommended