संजीवनी टुडे

कान छिदाना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद या नुकसानदेह, आप भी जान लें

संजीवनी टुडे 12-09-2019 03:05:00

कान छिदवाना की परंपरा का जितना महत्व फैशन के नजरिेए से है उससे कहीं ज्यादा सेहत के लिहाज से है।


डेस्क । कान छिदवाना की परंपरा का जितना महत्व फैशन के नजरिेए से है उससे कहीं ज्यादा सेहत के लिहाज से है। चलिए जानते हैं कैसे 

यह खबर भी पढ़े:अब कपड़े करेंगे आपके मोटापे की समस्या को दूर और आप दिखेंगी फिट एंड फैशनेबल

- इस प्रक्रिया को करने से बच्चों के दिमागी विकास में योगदान होता है। क्योंकि कान के निचले हिस्से यानि पालि में मेरिडियन केंद्र होता है जो दिमाग के बांए हिस्से को दाएं हिस्से से जोड़ता है। एक्यूप्रेशर की थेरेपी के अनुसार जब इस हिस्से पर दबाव डाला जाता है तो दिमाग के विकास में तेजी आती है।

- इसकी मदद से आंखों की रोशनी को बढाने में मदद मिलती है साथ ही शरीर में ऊर्जा का संचार भी तेजी के साथ होता है। 

- एक्यूप्रेशर विशेषज्ञ कहते हैं कि बच्चों के कान में होने वाली सरसराहट या सीटी बजने जैसी समस्या से राहत मिलती है।

- कान छिदवाने की प्रक्रिया को करने से तनाव और अवसाद की समस्या से राहत मिलती है। 

- भोजन को पचने में मदद करने के साथ ही इसकी मदद से मोटापे की समस्या से बच्चों को बचाया जा सकता है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

 

 

 

 

More From lifestyle

Trending Now
Recommended