संजीवनी टुडे

नागरिकता बिल: सिंगर ने प्रोग्राम किया कैंसिल, कहा- 'मेरा असम रो रहा हैं, जल रहा हैं'

संजीवनी टुडे 12-12-2019 20:58:19

नागरिकता संसोधन बिल लोकसभा के बाद राज्य सभा में पास हो गया। बिल को सदन ने विधेयक को 105 के मुकाबले 125 मतों से पारित कर दिया। भारी विरोध के बाद इस पर संसद की मुहर लग गयी। सदन ने कांग्रेस के हुसैन दलवाई, भाकपा के विनय विश्वम, माकपा के ई करीम और राजद के मनोज झा के विधेयक को प्रवर समिति में


नई दिल्ली। नागरिकता संसोधन बिल लोकसभा के बाद राज्य सभा में पास हो गया। बिल को सदन ने विधेयक को 105 के मुकाबले 125 मतों से पारित कर दिया। भारी विरोध के बाद इस पर संसद की मुहर लग गयी। सदन ने कांग्रेस के हुसैन दलवाई, भाकपा के विनय विश्वम, माकपा के ई करीम और राजद के मनोज झा के विधेयक को प्रवर समिति में भेजने के प्रस्तावों को ध्वनिमत से खारिज कर दिया। शिव सेना के सदस्य मतदान से पहले ही सदन से बहिर्गमन कर गये थे। नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ छात्रों के प्रदर्शन के कारण गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ विश्वविधालयों में होने वाली सभी परीक्षाओं को 16 दिसंबर तक के लिए स्थगित कर दिया है। 

यह खबर भी पढ़ें: अर्थव्यवस्था को लेकर बुरी खबर, 3 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंची महंगाई ने तोड़ी कमर

जानकारी के मुताबिक़ नागरिकता संशोधन विधेयक (कैब) के खिलाफ पूर्वोत्तर में चल रहे विरोध प्रदर्शनों को देखते हुए कई निजी एयरलाइनों ने कोलकाता से असम और अन्य पूर्वोत्तर राज्यों में जानेवाली उड़ानों को रद्द कर दिया। वही अब सिंगर पापोन ने ट्वीट करते हुए कहा की प्रिय दिल्ली, में माफ़ी चाहता हूं, लेकिन मैंने फैसला किया है कि मैं कल होने जा रहे कॉन्सर्ट में परफॉर्म नहीं कर पाऊंगा। मेरा राज्य असम जल रहा है, रो रहा और कर्फ्यू में है। मैं जिस मानसिक स्थिति में हूं, उन हालातों में मैं आपके लिए परफॉर्म नहीं कर पाऊंगा। 

यह खबर भी पढ़ें: Nirbhaya Rape Case: दोषी की अर्जी पर शीर्ष अदालत 17 दिसंबर को करेगा सुनवाई

सिंगर पापोन ने आगे लिखा कि मुझे मालूम है कि आपके साथ अन्याय हुआ है क्योंकि आपने बहुत पहले से शो के टिकट खरीदे होंगे और काफी पहले से इस शो की तैयारी की होगी। मैं उम्मीद करता हूं कि शो के ऑर्गेनाइजर्स आपकी मदद की कोशिश करेंगे। मैं वादा करता हूं कि मैं भविष्य में आपके लिए परफॉर्म जरुर करूंगा। मैं उम्मीद करता हूं कि आप लोग इस बात को समझेंगे। गौरतलब हैं असम की राजधानी गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ समेत कई इलाकों में उग्र प्रदर्शन देखने को मिल रहा हैं। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने राज्य में हो रहे प्रदर्शन पर कहा, 'मैं लोगों से अपील करता हूं कि वह शांति बनाए रखें और भ्रमित होने से बचें।' 

यह खबर भी पढ़ें: सनी लियोनी ने सनी देओल को लेकर कर दिया कुछ ऐसा की लोग हो गए मंत्रमुग्ध

गौरतलब हैं राज्यसभा में बुधवार को नागरिकता संशोधन बिल पर बहस के बीच असम, मणिपुर, त्रिपुरा, मिजोरम, अरुणाचल और मेघालय में प्रदर्शन हुए। असम में हजारों छात्रों ने विधानसभा की तरफ मार्च निकाला। बंद के दौरान पूर्वोत्तर के अलग-अलग राज्यों से बड़े स्तर पर प्रदर्शनों की ख़बरें आईं। असम में कुछ जगहों पर हिंसा भी हुई। कुछ जगहों पर प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाबलों के बीच झड़पें भी हुईं। 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From lifestyle

Trending Now
Recommended