संजीवनी टुडे

रोबोटिक क्रायोसर्जरी से हाेगा अब कैंसर का इलाज

संजीवनी टुडे 25-02-2018 08:23:04

Source: google

नई दिल्ली। 'रोबोटिक क्रायोसर्जरी' एक एेसी तकनीक हैं, जाे कैंसर का इलाज करती हैं। अब दर्दनाक कीमाेथेरेपी के बिना क्रायोसर्जरी, नैनो नाइफ थेरेपी के माध्‍यम से कैंसर के मरीजों का इलाज किया जाता हैं।  'रोबोटिक क्रायोसर्जरी' कैंसर जैसी भीषण बीमारी से छुटकारा पाने की एक नई और बेहतर तकनीक है। 

यह भी देखें: वीडियो : बीजेपी के इस सांसद ने स्कूल में शौचालय की अपने हाथो से की सफाई 

दिल्‍ली में आयोजन
कैंसर के इलाज की तकनीकों पर चर्चा करने के लिए  पहले राष्ट्रीय पत्रकार सम्मेलन' का आयोजन हुआ। इस सम्‍मेलन में क्रायोसर्जरी एक ऐसी आधुनिक तकनीक है, जिसमें कैंसर का इलाज कीमोथेरपी, रेडियोथेरपी या शरीर को खोलकर की जाने वाली सर्जरियों के बिना किया जाता है। यह सम्मेलन कैंसर के इलाज की दुनिया में आ रही नई पद्धतियों पर चर्चा की करने के लिए किया गया। 

ये भी देखें: VIDEO : कांग्रेस के विधायक ने दी बरिष्ठ पत्रकार को धमकी, पत्रकारों ने की निंदा

स्‍पेस कूलिंग तकनीक 

यह एक रोबोटिक सर्जरी की तकनीक हैं। इस तकनीक मेंआईस बॉल पद्धति के माध्यम से कैंसर की कोशिकाओं को पूरी तरह खत्म किया जाता है। इस पद्धति में कैंसर की कोशिकाओं को -160 डिग्री तापमान पर लेजाकर पूरी तरह खत्म किया जाता है। इसमें मरीजाे काे दर्द या पीड़ा का अहसास नहीं होता हैं। इस रोबोटिक सर्जरी के लिए शरीर में चीर-फाड़ करने की जरूरत भी नहीं पड़ती हैं।

MUST WATCH

मुफ्त परामर्श

ऐसे में विश्‍व के कुछ प्रसिद्ध कैंसर विशेषज्ञ भारतीय मरीजों से मिलने भारत आए हैं। उन्हाेंने बताया कि भारत के कई मरीज चीन में इस सर्जरी के माध्‍यम से कैंसर का इलाज करवाने आते हैं। ऐसे में वह भारतीय मरीजों को यहां मुफ्त परामर्श देना चाहते हैं।

Rochak News Web

More From lifestyle

Trending Now
Recommended