संजीवनी टुडे

बंगाल में दुर्गा पूजा के दौरान कोरोना से पांच चिकित्सकों की मौत, कुल 63 चिकित्सकों ने गंवाई जान

संजीवनी टुडे 27-10-2020 17:45:45

पश्चिम बंगाल में महामारी कोरोना न केवल आम नागरिकों बल्कि चिकित्सकों के लिए भी जानलेवा साबित होता जा रहा है।


कोलकाता। पश्चिम बंगाल में महामारी कोरोना न केवल आम नागरिकों बल्कि चिकित्सकों के लिए भी जानलेवा साबित होता जा रहा है। दुर्गा पूजा के दौरान राज्य भर में और पांच चिकित्सकों की मौत हुुई है। 

राज्य स्वास्थ्य विभाग की ओर से बताया गया है कि मंगलवार तक राज्य भर में कुल 63 चिकित्सकों की मौत हुई है। दुर्गा पूजा के पांच दिनों के दौरान भी कई डॉक्टरों ने अपनी जान गवाई है। बर्दवान के मेमारी में चिकित्सक दिलीप (75) भट्टाचार्य की जान इस महामारी के कारण हुई है। चितरंजन नेशनल मेडिकल कॉलेज के पूर्व अध्यापक और डॉ  सुजन कुमार मित्र (80) की जान भी इसी दौरान गयी है। चिकित्सक अमल रॉय और दिलीप विश्वास (65) भी कोरोना काल में ही मौत हुई हैं। चिकित्सक अमल रॉय की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। इसके बाद वह अस्पताल में भर्ती थे। उनकी मौत मंगलवार सुबह हुई है।

वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम के सदस्य डॉ. राजीव पांडे ने कहा कि सरकार से लेकर आम लोगों तक हमलोगों ने हाथ जोड़कर अनुरोध किया था कि किसी भी तरह से महामारी से हो रही मौत को रोकना होगा। एसोसिएशन आफ हेल्थ सर्विसेज डॉक्टर के राज्य सचिव मानस गुप्ता ने कहा कि प्रशासन और आम लोगों के पास हमने हमेशा ही आवेदन किया है महामारी रोकथाम के लिए सारे लोग एकजुट हो लेकिन अभी भी आम लोगों में जागरूकता की कमी है और प्रशासन भी उदासीन है। 

यह खबर भी पढ़े: 2+2 वार्ता: भारत और अमेरिका के बीच इन पांच समझौतों पर हुए हस्ताक्षर, दोनों देशों की दोस्ती हुई मजबूत

यह खबर भी पढ़े: डिजिटल रथ के बाद भाजपा के संकल्प पत्र से सिंधिया की फोटो गायब, कांग्रेस ने कसा तंज

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From kolkata

Trending Now
Recommended